Uttarakhand: जोशीमठ में जिन 723 घरों में आई दरारें, उनके रहवासियों को मिलेगी डेढ़ लाख रुपए की मदद, जानिए पूरा मामला...

50 हजार रुपए शिफ्टिंग के लिए और मुआवजे के एडवांस के तौर पर एक लाख रुपए दिए जाएंगे।
 
Uttarakhand: जोशीमठ में जिन 723 घरों में आई दरारें, उनके रहवासियों को मिलेगी डेढ़ लाख रुपए की मदद, जानिए पूरा मामला...

नई दिल्ली। उत्तराखंड के जोशीमठ में जिन 723 घरों में दरारें आई हैं, उनके रहवासियों को अभी डेढ़ लाख रुपए की मदद की जाएगी। 50 हजार रुपए शिफ्टिंग के लिए और मुआवजे के एडवांस के तौर पर एक लाख रुपए दिए जाएंगे। फाइनल मुआवजा क्या होगा, ये बाद में तय किया जाएगा। एक हफ्ते में सर्वे पूरा होगा और उसके बाद ये मदद दी जाएगी। वहीं, प्रभावित परिवारों से बातचीत के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के सचिव एम सुंदरम ने फैसलों की जानकारी मीडिया में दी। उन्होंने कहा कि अभी कोई घर नहीं तोड़ा जाएगा, केवल 2 होटल तोड़े जाएंगे। घरों पर लाल निशान उन्हें खाली करने के लिए लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि होटल मालिकों से भी बातचीत हो गई है, वे प्रशासनिक कार्रवाई में सहयोग के लिए राजी हैं।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

भास्कर ने जब मलारी इन के मालिक टी सिंह राणा से बात की तो उन्होंने सरकार से बातचीत की बात स्वीकार की। उन्होंने कहा, सरकार बद्रीनाथ जैसा मुआवजा देने को राजी नहीं है, वह मार्केट रेट पर मुआवजा देगी। हमने कहा कि रेट बता दीजिए और होटल गिरा दीजिए, उन्होंने रेट नहीं बताया। अब हम भी यहां से नहीं हटेंगे।

यह खबर भी पढ़ें: Interesting : पाकिस्तानी महिला को पसंद आया ड्राइवर के गियर बदलने का अंदाज, दे बैठी दिल

तो वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने CM पुष्कर सिंह धामी से जोशीमठ की स्थिति की जानकारी ली। साथ ही उत्तराखंड CM पुष्कर सिंह धामी जोशीमठ पहुंचे। उन्होंने कहा कि राहत और पुनर्वास ठीक तरह से हो ये हमारी प्राथमिकता है। हम चाहेंगे की सभी तक जल्द से जल्द अंतरिम राहत पहुंच जाए, उसके लिए काम कर रहे हैं। आपको बता दे, जोशीमठ के ऊपरी इलाकों में बारिश शुरू, बद्रीनाथ में बर्फबारी भी हो रही। वहीं, चमोली कलेक्टर हिमांशु खुराना के मुताबिक ​​कर्णप्रयाग के बहुगुणा में IIT रुड़की की टीम स्टडी कर रही है। उनकी रिपोर्ट के बाद जरूरी कदम उठाएंगे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web