भाजपा से निलंबित नेत्री सीमा पात्रा गिरफ्तार, नौकरानी को किया था प्रताड़ित, जीभ से साफ करवाती थी पेशाब

सुनीता ने पुलिस को बताया कि मालिक इतने बेरहम थे कि रॉड से मारकर दांत तोड़ दिए। 
 
भाजपा से निलंबित नेत्री सीमा पात्रा गिरफ्तार, नौकरानी को किया था प्रताड़ित, जीभ से साफ करवाती थी पेशाब

रांची। दिव्‍यांग युवती को बंधक बनाकर उसकी बेरहमी से पिटाई करने के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए भाजपा की पूर्व नेत्री सीमा पात्रा को गिरफ्तार कर लिया है। सीमा पात्रा को सुबह अरगोड़ा थाना पुलिस की टीम ने गिरफ्तार किया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक गिरफ्तारी के बाद कागजी कार्रवाई पूरी की जायेगी। वहीं उन्हें आज कोर्ट में प्रस्तुत किया जायेगा।

अरगोड़ा थाना पुलिस की टीम ने रांची छोड़कर फरार होने की कोशिश कर रही सीमा पात्रा को सुबह 4 बजे गिरफ्तार कर लिया है। मामला दर्ज करने के बाद से पुलिस सीमा पात्रा की तलाश में जुटी हुई थी। मंगलवर को सीमा के यहां घरेलू नौकरानी का काम करने वाली सुनीता का बयान कोर्ट में दर्ज करवाया गया था।

यह खबर भी पढ़ें: अनोखी परम्परा: यहां सिर्फ जिंदा ही नहीं बल्कि मर चुके लोगों की भी की जाती है शादी

सुनीता ने पुलिस को बताया कि मालिक इतने बेरहम थे कि रॉड से मारकर दांत तोड़ दिए। चलने में लाचार हो गई। घिसटकर चलती थी। कभी पेशाब कमरे से बाहर चली जाए तो सीमा जीभ से फर्श साफ करवाती थी। सुनीता ने बताया कि उसने सालों से सूरज की रोशनी नहीं देखी। खबर सामने आने पर सीमा को पार्टी से निकाल दिया गया है।

कौन हैं सीमा पात्रा?
सीमा पात्रा पूर्व आइएएस अधिकारी की पत्नी हैं। उनके पति का नाम महेश्वर पात्रा है। इसके साथ ही सीमा भाजपा की महिला विंग की राष्ट्रीय कार्यसमिति की सदस्य रह चुकी हैं। नौकरानी को प्रताड़ित करने का मामला प्रकाश में आने के बाद उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया था। रिटायर्ड आईएएस की पत्नी और भाजपा से निलंबित नेत्री सीमा पात्रा पर अरगोड़ा थाना में आईपीसी की धारा सहित एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था।

यह खबर भी पढ़ें: इस गांव में लोग एक-दुसरे को सीटी बजाकर बुलाते हैं, जो लोग सीटी नहीं बजा पाते...

क्‍या है मामला?
झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने घरेलू सहायिका सुनीता के मामले में स्वतः संज्ञान लेते हुए प्रदेश के डीजीपी से पूछा था कि अब तक दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई है? उन्होंने इस मामले में प्रदेश पुलिस के रवैये पर भी चिंता प्रकट की थी। अरगोड़ा थाना क्षेत्र में स्थित अशोक नगर के रोड नंबर-1 में सुनीता (29) नाम की युवती बतौर घरेलू सहायिका काम करती थीं। वह आइएएस से सेवानिवृत्त अधिकारी महेश्वर पात्रा के घर में कार्यरत थीं, जहां उनसे महेश्‍वर पात्रा की पत्‍नी सीमा पात्रा घर का कामकाज कराती थीं। उनपर सुनीता के साथ अत्‍याचार करने का आरोप लगा है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web