सोनाली फोगाट हत्याकांड के मुख्य आरोपी सुधीर ने कबूला जुर्म, बोला- गोवा में कोई शूटिंग नहीं थी, मैंने ही उसे मारा, साजिश रची थी

गोवा पुलिस ने इस हत्याकांड में कुछ पुख्ता सबूत जुटाए हैं, जो सुधीर सांगवान को दोषी ठहराने के लिए पर्याप्त हैं। 

 
सोनाली फोगाट हत्याकांड के मुख्य आरोपी सुधीर ने कबूला जुर्म, बोला- गोवा में कोई शूटिंग नहीं थी, मैंने ही उसे मारा, साजिश रची थी

नई दिल्ली। सोनाली फोगाट हत्याकांड के मुख्य आरोपी सुधीर सांगवान ने रिमांड के दौरान अपना जुर्म कबूल कर लिया है। गोवा पुलिस सूत्र के मुताबिक, सुधीर साजिश के तहत सोनाली को गुरुग्राम से गोवा लाया था। गोवा में शूटिंग की कोई योजना नहीं थी। सोनाली की हत्या की साजिश बहुत पहले ही रच ली गई थी। गोवा पुलिस ने इस हत्याकांड में कुछ पुख्ता सबूत जुटाए हैं, जो सुधीर सांगवान को दोषी ठहराने के लिए पर्याप्त हैं। 

वहीं गोवा के CM प्रमोद सावंत ने जल्द से जल्द चार्जशीट दायर करने के निर्देश दिए हैं। गोवा के कर्लीज रेस्टोरेंट में 23 अगस्त को हुए हत्याकांड की जांच गोवा के अंजुना थाना की पुलिस कर रही है। सुधीर-सुखविंदर के खिलाफ हत्या का, जबकि इन दोनों के साथ ही रूम बॉय दत्ता प्रसाद गाओंकर, कर्लीज क्लब का मालिक एडविन और रमा मांड्रेकर के खिलाफ NDPS एक्ट का केस दर्ज किया गया है। पांचों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

गोवा के DGP जसपाल सिंह के अनुसार, सुधीर और सुखविंदर ने कबूल किया है कि उन्होंने 22 अगस्त की रात सोनाली को जबरदस्ती ड्रग दी। उन्हें पानी में मिलाकर मेथैमफेटामाइन केमिकल दिया। तीनों ने अपने होटल के कमरे में MDMA को सूंघा और सुधीर पानी की बोतल में बचा हुआ MDMA कर्लीज क्लब ले गया। CCTV में सोनाली को सुधीर वही पिलाते नजर आ रहा है। ड्रग की ओवरडोज से करीब ढाई बजे सोनाली की तबीयत बिगड़ी तो दोनों उन्हें वॉशरूम ले गए। वहां सोनाली को उल्टियां हुईं। कुछ देर बाद वे वापस आकर डांस करने लगीं। साढ़े 4 बजे के करीब फिर टॉयलेट ले गए, लेकिन वह खुद चल नहीं पा रही थीं, न ही खड़ी हो पा रही थीं। सुधीर-सुखविंदर उसे लेकर गए तो वह टॉयलेट में ही सो गईं। वे दोनों वहीं बैठे रहे। सुबह दोनों पहले सोनाली को पार्किंग एरिया में ले गए। वहां से ग्रैंड लियोनी रिजॉर्ट लाए, जहां से अस्पताल लेकर गए। वहीं ड्रग्स की बोतल लेडीज टॉयलेट में छिपा दी।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

सुधीर और सुखविंदर ने सोनाली को साजिश रचकर मारा। दत्ता प्रसाद ने सुधीर को 12 हजार रुपए में ड्रग्स उपलब्ध कराई। इस काम के लिए सुधीर ने दत्ता को दो बार में 5,000 रुपए और 7,000 रुपए का भुगतान किया था। एडविन ने अपने रेस्टोरेंट में ड्रग्स के इस्तेमाल का विरोध नहीं किया। रमा मांड्रेकर नशा तस्कर है, जिससे दत्ता प्रसाद ने ड्रग्स लेकर सुधीर को दी थी।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web