Navjot Singh Sidhu: 26 जनवरी को रिहा हो सकते हैं सिद्धू, राहुल गांधी ने भेजा यात्रा में शामिल होने का न्योता

पिछले दिनों राहुल गांधी के द्वारा सिद्धू को भारत जोड़ो यात्रा के समापन रैली में आमंत्रित किया गया है।
 
Navjot Singh Sidhu: 26 जनवरी को रिहा हो सकते हैं सिद्धू, राहुल गांधी ने भेजा यात्रा में शामिल होने का न्योता

नई दिल्ली। क्रिकेटर से राजनेता बने नवजोत सिंह सिद्धू इन दिनों रोड रेज के मामले में पंजाब की पटियाला जेल में सजा काट रहे है। 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस के दिन नवजोत सिंह सिद्धू की रिहाई हो सकती है। उन्हें राहुल गांधी ने 30 जनवरी को श्रीनगर में होने जा रही रैली के लिए आमंत्रित भी किया है। आपको बता दें कि पंजाब में रिहाई के लिए जिन 51 कैदियों की लिस्ट तैयार हुई है, उनमें सिद्धू के नाम भी शामिल है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

सिद्धू को मई 2022 में रोड रेज मामले में पटियाला हाईकोर्ट ने दोषी करार देते हुए 1 साल की सजा सुनाई। सिद्धू पिछले साल के मई माह से पटियाला सेंट्रल जेल में बंद हैं। पिछले दिनों राहुल गांधी के द्वारा सिद्धू को भारत जोड़ो यात्रा के समापन रैली में आमंत्रित किया गया है। जिसके बाद से यह तय मानी जा रही है कि सिद्धू 26 जनवरी को जेल से रिहा हो सकते हैं। जिसके बाद वह 30 जनवरी को राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे।

यह खबर भी पढ़ें: लोगों के पसीने छूटे अफ्रीका के सुलेमान की हाइट नापने में, इतना लंबा टेप भी पड़ गया छोटा

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह वड़िंग, विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा समेत वरिष्ठ नेताओं ने पार्टी की मजबूती के लिए राहुल गांधी को कई सुझाव दिए थे। उनमें से एक सुझाव यह भी था कि बाहरी लोगों को पार्टी से दूर रखा जाए। कई नेताओं ने राहुल गांधी से कहा कि नुकसान पहुंचा चुके बाहरी नेताओं से पार्टी से दूर रखा जाए।

यह खबर भी पढ़ें: Video: शख्स मगरमच्छ के मुंह में हाथ डालकर दिखा रहा था दिलेरी, तभी हुआ कुछ ऐसा कि...

जेल से रिहाई के नियम
कैदियों की रिहाई प्रक्रिया को लेकर नियम है कि जेल प्रशासन को नियमावली दी जाती है। इसके तहत तय किया जाता है कि किन कैदियों को रिहा किया जा सकता है। राज्य सरकार की ओऱ से कैदियों की रिहाई की तय नीतियों के अलावा केंद्र सरकार की भी एक पॉलिसी है। इसके तहत 15 अगस्त एवं 26 जनवरी को कैदियों की रिहाई की जाती है। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web