Mahant Narendra Giri: महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से मिले तीन करोड़ कैश और जेवरात, CBI ने एक साल बाद खोले सील किए कमरे

वर्तमान मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में कमरा खोलने के बाद मठ की चाबी वर्तमान महंत बलवीर गिरि को सौंपी गई।

 
Mahant Narendra Giri: महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से मिले तीन करोड़ कैश और जेवरात, CBI ने एक साल बाद खोले सील किए कमरे

प्रयागराज। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे बाघंबरी गद्दी मठ के पीठाधीश्वर महंत नरेंद्र गिरि की आत्महत्या के लगभग एक साल बाद उनके शयन कक्ष को गुरुवार को CBI की मौजूदगी में खोल दिया गया। उस कमरे से भारी मात्रा में कैश और ज्वैलरी बरामद हुई है। तीन करोड़ रुपये की गड्डियों से भरे दो बैग उस पलंग में बने दराज में पाए गए हैं, जिस पर महंत सोते थे। ये वो कक्ष है जिसे महंत की मौत के चार दिन दिन बाद CBI ने पांच लोगों की मौजूदगी में सील किया था।

मौके पर मौजूद सूत्रों की मानें तो महंत के कमरे में तीन करोड़ रुपये नकद, एक वसीयत, जो वर्तमान महंत बलवीर गिरि के ही नाम पर है, के साथ ही 13 कारतूस, करोड़ों के जेवरात और 10 क्विंटल देशी घी मिला है।

यह खबर भी पढ़ें: इस गांव में लोग एक-दुसरे को सीटी बजाकर बुलाते हैं, जो लोग सीटी नहीं बजा पाते...

एक साल बाद खोला गया कमरा
वर्तमान मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में कमरा खोलने के बाद मठ की चाबी वर्तमान महंत बलवीर गिरि को सौंपी गई। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरि का शव पिछले साल 20 सितंबर को मठ के एक कमरे में लटका मिला था। महंत की मौत की जांच CBI ने की थी और उनके शिष्य आनंद गिरि और मंदिर के पुजारी अधा प्रसाद तिवारी और उनके बेटे को महंत की आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था। महंत की मौत के बाद जहां सुसाइड रूम को सील कर दिया गया, वहीं पुलिस ने मठ के अंदर पहली मंजिल के कमरे को भी सील कर दिया, जहां महंत नरेंद्र गिरि रहते थे।

इस कार्रवाई के दौरान महंत नरेंद्र गिरि के उत्तराधिकारी महंत बलवीर गिरी भी मौजूद हैं। CBI बंद कमरे से मिले सामानों को उनके सुपुर्द कर सकती है। अभी इस कार्रवाई में और समय लग सकता है लेकिन इस बीच मठ के गेट को बंद कर दिया गया है। बाहर से कोई भी व्यक्ति बिना CBI की इजाजत के अंदर नहीं जा सकता है।

यह खबर भी पढ़ें: अनोखी परम्परा: यहां सिर्फ जिंदा ही नहीं बल्कि मर चुके लोगों की भी की जाती है शादी

कोर्ट के आदेश पर खुला महंत का कमरा
बाघम्बरी मठ के मौजूदा महंत बलवीर गिरी ने कमरा खोले जाने को लेकर कोर्ट में अर्जी दाखिल की थी। इसके बाद कोर्ट के आदेश पर सीबीआई की टीम गुरुवार को पुलिस व मजिस्ट्रेट की मौजदगी में कमरे को खोला गया। यहां से मिलने वाला एक-एक सामान का रिकॉर्ड तैयार किया गया है। इसके अलावा वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी भी की गई है। हालांकि जिस कमरे में महंतनरेंद्र गिरी का शव फंदे से लटका पाया गया था, वह कमरा अभी नहीं खुलेगा।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web