दिल्ली विधानसभा में भड़के केजरीवाल, कहा- LG हमारे सिर पर आकर बैठ गए, जानिए और क्या बोले...

केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा कि ऐसा करने वाले LG होते कौन हैं। क्या वो हमें सिखाएंगे कि हमारे बच्चों को पढ़ाना कैसे है?
 
दिल्ली विधानसभा में भड़के केजरीवाल, कहा- LG हमारे सिर पर आकर बैठ गए, जानिए और क्या बोले...

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने विधानसभा में कहा कि LG हमारे सिर पर आकर बैठ गए हैं। हम टीचर्स को ट्रेनिंग लेने के लिए फिनलैंड भेजना चाहते हैं, ताकि बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सके, लेकिन LG विनय कुमार सक्सेना टीचरों को ट्रेनिंग के लिए जाने से रोक रहे हैं। वो सुप्रीम कोर्ट के आदेश नहीं मानते। विधानसभा में चिल्लाते हुए केजरीवाल ने कहा, हैंडराइटिंग और स्पेलिंग की शिकायत करते हैं। वो हैं कौन। वो मेरे हेडमास्टर नहीं हैं। मैं जनता का चुना हुआ मुख्यमंत्री हूं। 

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

दरअसल, दिल्ली सरकार अपने टीचर्स को ट्रेनिंग के लिए फिनलैंड भेजना चाहती है। AAP ने आरोप लगाया कि LG सक्सेना ने इस फैसले पर रोक लगा दी है। केजरीवाल ने दिल्ली विधानसभा में कहा कि ऐसा करने वाले LG होते कौन हैं। क्या वो हमें सिखाएंगे कि हमारे बच्चों को पढ़ाना कैसे है? केजरीवाल ने कहा कि LG ने दो बार टीचर्स को फिनलैंड भेजने के प्रस्ताव पर आपत्ति जताई है। इससे पता चलता है कि उनकी मंशा सही नहीं है। वो LG हैं, मेरे हेडमास्टर नहीं है। लोगों ने मुझे दिल्ली का मुख्यमंत्री चुना है, लेकिन LG हमें काम नहीं करने दे रहे हैं।

यह खबर भी पढ़ें: विधवा बहू की ससुर ने फिर से कराई शादी, बेटी की तरह कन्यादान भी किया; गिफ्ट में दी कार

केजरीवाल ने आगे कहा, वक्त सबसे ज्यादा ताकतवर होता है। आज केंद्र में BJP की सरकार है। कल हमारी सरकार भी केंद्र में आ सकती है। भगवान ने चाहा तो ऐसा होगा। दिल्ली में हमारे LG होंगे और यहां सरकार भाजपा या कांग्रेस की होगी तो भी हमारे LG किसी को परेशान नहीं करेंगे। केजरीवाल ने कहा कि उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने टीचर्स को फिनलैंड जाने से रोका। उनसे पूछा तो कहते हैं कि मैंने कॉस्ट-बेनिफिट एनालिसिस करने को कहा है। मैंने उनसे कहा, आप कौन होते हाे कॉस्ट-बेनिफिट एनालिसिस के लिए पूछने वाले। मुझे जनता ने चुना है। इस पर LG बोले- मुझे प्रेसिडेंट ने चुना है। मैंने उनसे कहा, जैसे ब्रिटिशर्स वायसरॉय को चुनते थे। वायसरॉय भी यही कहते थे कि तुम गंवार भारतीयों को सरकार चलानी नहीं आती। ठीक ऐसे ही उपराज्यपाल भी कह रहे हैं कि तुम गंवार दिल्ली वालों को सरकार चलानी नहीं आती। 

यह खबर भी पढ़ें: Love Story: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी, तस्वीरों में देखें प्यार की दास्तां

वहीँ, केजरीवाल ने दावा किया कि उपराज्यपाल ने दिल्ली MCD चुनावों में भाजपा के 104 सीटें जीतने का श्रेय खुद को दिया था। केजरीवाल बोले कि LG ने मुझे एक मीटिंग में बताया था कि उनकी ही वजह से पार्टी 104 सीटें जीती, अगर वे न होते तो पार्टी 20 सीट भी न जीत पाती। केजरीवाल ने यह भी कहा कि वीके सक्सेना ने यह दावा भी किया था कि उनकी वजह से भाजपा अगले लोकसभा चुनाव में सभी 7 सीटें जीतेगी। केजरीवाल ने कहा कि उपराज्यपाल के पास खुद कोई फैसला लेने का अधिकार होता ही नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने साफ तौर पर कहा है कि वे पुलिस, जमीन और पब्लिक ऑर्डर को छोड़कर किसी और मुद्दे पर कोई फैसला नहीं ले सकते हैं। केजरीवाल ने विधानसभा में BJP के उन सांसदों और विधायकों की लिस्ट भी दिखाई जिनके बच्चों ने विदेश में पढ़ाई की है। केजरीवाल ने कहा कि अच्छी शिक्षा पर सभी का अधिकार होना चाहिए।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web