तेज रफ्तार का कहर: कार ने अंबाजी माता दर्शन करने जा रहे 14 श्रद्धालुओं को कुचला, 7 की मौत और 6 घायल

हादसे में बचे श्रद्धालुओं ने बताया कि कार बहुत स्पीड में सामने से आ रही थी। इसी दौरान कार अनियंत्रित हो गई और पैदल जा रहे श्रद्धालुओं की भीड़ में आ पहुंची।
 
तेज रफ्तार का कहर: कार ने अंबाजी माता दर्शन करने जा रहे 14 श्रद्धालुओं को कुचला, 7 की मौत और 6 घायल

गांधीनगर। गुजरात के अंबाजी में शुक्रवार सुबह हुए सड़क हादसे में 7 लोगों की मौत हो गई। एक तेज रफ्तार कार ने अंबाजी माता दर्शन करने जा रहे 14 श्रद्धालुओं को कुचल दिया। इनमें 7 की मौत हो गई, जबकि 6 की हालत गंभीर है। घायलों को मोडासा के सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सभी मृतक व घायल पंचमहाल जिले के रहने वाले हैं। तो वही हादसे में बचे श्रद्धालुओं ने बताया कि कार बहुत स्पीड में सामने से आ रही थी। इसी दौरान कार अनियंत्रित हो गई और पैदल जा रहे श्रद्धालुओं की भीड़ में आ पहुंची। 14 लोग कार की चपेट में आए। इसके बाद कार सड़क किनारे बिजली के खंभे से टकरा गई। अगर कार खंभे से नहीं टकराती तो उसकी चपेट में और 10-12 से अधिक श्रद्धालु आते।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

हादसे में 7 लोगों की जान लेने वाली इनोवा कार का ड्राइवर 20 घंटे से लगातार गाड़ी चला रहा था। वह पुणे से उदयपुर जा रहा था और नींद पूरी न होने के चलते उसे झोंका आ गया। हादसे के बाद चालक को भी इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था, जहां उसने खुद डॉक्टर को यह बात बताई। हादसे के बाद मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए की सहायता देने की घोषणा करते हुए संवेदना व्यक्त की है। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि अरावली जिले के मालपुर के पास अंबाजी दर्शन के लिए पैदल यात्रियों की घटना अत्यंत दुखद है। हादसे में जान गंवाने वाले तीर्थयात्रियों के परिवारों के प्रति मैं संवेदना व्यक्त करता हूं। राज्य सरकार मृतकों के परिवार को 4 लाख और घायलों को 50 हजार रुपए की मदद देगी।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web