Ganpati Visarjan: यूपी-हरियाणा में गणेश विसर्जन के दौरान डूबने से 15 लोगों की मौत, मृतकों में 4 बच्चे भी शामिल, सीएम खट्टर ने जताया शोक

उन्होंने ट्विटर कर कहा गणपति विसर्जन के दौरान हुई ये असमय मौत की घटना काफी दुखद और दिल दहला देने वाली है। 

 
Ganpati Visarjan: यूपी-हरियाणा में गणेश विसर्जन के दौरान डूबने से 15 लोगों की मौत, मृतकों में 4 बच्चे भी शामिल, सीएम खट्टर ने जताया शोक

चंड़ीगढ़। हरियाणा और उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को गणपति विसर्जन के दौरान 5 जगह बड़े हादसे हुए। यूपी और हरियाणा की अलग-अलग घटनाओं में गणेश विसर्जन के दौरान 15 लोगों की डूबने से मौत हो गई। हरियाणा के महेंद्रगढ़ और सोनीपत जिलों में शुक्रवार शाम भगवान गणेश की प्रतिमा विसर्जित करने के दौरान छह लोगों की डूबने से मौत हो गई। महेंद्रगढ़ में अभी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

जानकारी के मुताबिक महेंद्रगढ़ में करीब सात फुट की मूर्ति को विसर्जन के लिए ले जाया जा रहा था। इसी दौरान 9 युवक पानी के तेज बहाव में बह गए। जिला प्रशासन ने एनडीआरएफ की मदद ली और रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान चार के शव निकाले गए जबकि अन्य को बचा लिया गया। रेस्क्यू किए गए सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, सोनीपत में यमुना नदी में भी 2 की मौत हो गई, 2 अभी लापता हैं।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

मुख्यमंत्री ने जताया शोक
मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी घटना पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने ट्विटर कर कहा गणपति विसर्जन के दौरान हुई ये असमय मौत की घटना काफी दुखद और दिल दहला देने वाली है। ऐसे मुश्किल समय में हम इन लोगों के परिवार के साथ हैं। कई लोगों को डूबने से बचा लिया गया है और अस्पताल पहुंचाया गया है। मैं उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।


उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में भी 8 लोगों की मौत की खबर है। संत कबीर नगर में 4 बच्चे डूब गए। चारों भाई-बहन थे। सभी के शव निकाल लिए गए हैं। वहीं​​​​​, ललितपुर में 2 और उन्नाव में 3 लोगों की विसर्जन के दौरान डूबने से मौत हो गई है।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

उत्तर प्रदेश क संत कबीर नगर जिले में भी मूर्ति विसर्जन देखने गए चार बच्चों की आमी नदी में डूबने से मौत हो गई। घटना खलीलाबाद थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर कथार गांव की है। पुलिस ने मछुआरों की मदद से नदी से शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस अधीक्षक सोनम कुमार ने बताया कि चारों बच्चे पौफिया (6), अजीत (6), रूबी (8) और दीपाली (11) विसर्जन देखने गए थे।

उन्नाव में तीन बच्चों की गई जान
उन्नाव में दो बच्चों की डूबने से तुरंत मौत हो गई। तीसरे बच्चे को इलाज के दौरान अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया। जानकारी के अनुसार, बच्चे भगवान गणेश की मूर्तियों को गंगा नदी में विसर्जित करने गए थे। इस दौरान पांच बच्चे गंगा नदी में डूबने लगे। वे सभी अचानक गहरे पानी में चले गए थे। मौके पर मौजूद लोगों ने बच्चों का रेस्क्यू किया। हालांकि, तब तक दौ की मौत हो गई थी। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web