Fatwa for Ganesh Puja: रूबी खान ने की भगवान गणेश की पूजा,  तो फतवा हुआ जारी, BJP नेता ने बताया 'जेहादी'

 
Fatwa for Ganesh Puja

अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में भारतीय जनता पार्टी की नेता रूबी खान विवादों में फंस गई हैं। दरअसल, गणेश चतुर्थी के मौके पर उन्होंने गणपति की अराधना की थी। कट्‌टरपंथियों को मुस्लिम नेता की गणेश पूजा नहीं भाया। उन्होंने इसके खिलाफ फतवा जारी कर दिया। मामला गरमाया तो भाजपा की मुस्लिम नेता सामने आईं और फतवा जारी करने वालों को जेहादी करार दिया। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मुफ्ती और मौलाना उग्रवादी और जेहादी सोच के हैं। ये लोग खुद भेदभाव करना चाहते हैं। रूबी ने कहा कि सच्चे मुसलमान इस प्रकार की बात नहीं करते हैं।

मामला यूपी के अलीगढ़ का है। यहां पर गणेश चतुर्थी के मौके पर मुस्लिम भाजपा नेता रूबी खान ने अपने घर में भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित की। उनका विधिवत पूजन का। अब इस परिवार के खिलाफ देवबंद के मुफ्ती ने फतवा जारी कर दिया है। मुफ्ती ने अरशद फारूकी ने इसे गैर इस्लामी करार दिया है। घर में भगवान गणेश की मूर्ति स्थापित करने वाली रूबी आसिफ खान भाजपा महिला मोर्चा की मंडल उपाध्यक्ष हैं। दरअसल, रूबी खान से गणेश प्रतिमा स्थापित किए जाने के मामले में राय पूछी गई थी।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

मुफ्ती ने इस मामले में कहा था कि भगवान गणेश को हिंदू काफी पूजनीय मानते हैं। उनको ज्ञान के साथ-साथ सुख और समृद्धि देने वाला माना जाता है। मुफ्ती ने कहा कि इस्लाम में मूर्ति पूजा नहीं होती है। इस्लाम में अल्लाह के अलावा किसी की पूजा नहीं की जाती है। मुफ्ती ने कहा कि जो लोग ऐसा कर रहे हैं, वे इस्लाम के खिलाफ हैं। ऐसा करने वालों के खिलाफ वही हुक्म जारी होता है, जो इस्लाम के खिलाफ जाने वालों के लिए है।

फतवे की परवाह नहीं
रूबी खान ने फतवे के खिलाफ करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार का फतवा जारी करने वाले देश का बंटवारा चाहते हैं। ये देश सबका है। यहां हिंदू और मुस्लिम को मिलकर रहना है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के फतवों की मुझे कोई परवाह नहीं है। पहले भी हमारे खिलाफ फतवे जारी होते रहे हैं। मुफ्ती अरशद फारूकी के खिलाफ हमला करते हुए रूबी ने कहा कि इस प्रकार के मुफ्ती और मौलाना उग्रवादी और जेहादी सोच के हैं। भेदभाव करना चाहते हैं। ये देश में रहकर हिंदुस्तान की बात नहीं करते हैं। सच्चे मुसलमान इस प्रकार की बात नहीं करते हैं।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

रूबी ने कहा कि मैं हमेशा हिंदुओं के पर्वों को मनाती रहती हूं और आगे भी मनाउंगी। हमारे खिलाफ मौलवी पोस्टर तक लगवा चुके हैं। पिछले दिनों यूट्यूबर फरमानी नाज के खिलाफ इसी प्रकार का मामला सामने आया था। उस समय फरमानी नाज ने हर-हर शंभु गाने के जरिए इंटरनेट पर धूम मचाई थी। कट्‌टरपंथियों की ओर से इसे इस्लाम के खिलाफ बताते हुए फरमानी नाज को तौबा करने को कहा गया था।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web