Chandigarh University MMS Leak: पीड़ित छात्रा का दावा- 'आरोपी ने 50-60 गर्ल्स के नहाते हुए बनाए वीडियो, बॉयफ्रेंड को किए शेयर

 
hungama

यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल की रहने वाली फर्स्ट ईयर की एक छात्रा ने बताया है कि आरोपी छात्रा एमबीए की पढ़ाई कर रही है। उसने वॉशरूम में मोबाइल रखकर 50-60 छात्राओं के नहाते हुए वीडियो बनाए हैं। छात्रा के मुताबिक, आरोपी ने अपने बॉयफ्रेंड के साथ वीडियो शेयर किए हैं।  

चंडीगढ़। Chandigarh University MMS Leak: मोहाली में यूनिवर्सिटी की गर्ल स्टूडेंट्स के नहाते हुए वीडियो वायरल करने के मामले में पुलिस ने आरोपी छात्रा को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी छात्रा ने पुलिस को पूछताछ में बताया है कि उसने सिर्फ अपना ही वीडियो भेजा है, किसी दूसरी छात्रा का वीडियो नहीं बनाया है। वहीं इसको लेकर यूनिवर्सिटी की एक स्टूडेंट ने बताया कि उसने 50-60 छात्राओं के नहाते हुए वीडियो बनाए हैं।

यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल की रहने वाली फर्स्ट ईयर की एक छात्रा ने बताया है कि आरोपी छात्रा एमबीए की पढ़ाई कर रही है। उसने वॉशरूम में मोबाइल रखकर 50-60 छात्राओं के नहाते हुए वीडियो बनाए हैं। छात्रा के मुताबिक, आरोपी ने अपने बॉयफ्रेंड के साथ वीडियो शेयर किए हैं। इस बीच यूनिवर्सिटी में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

यह खबर भी पढ़ें: लंदन से करोड़ों की ‘बेंटले मल्सैन’ कार चुराकर पाकिस्तान ले गए चोर! जाने क्या है पूरा मामला?

छात्रा के मुताबिक, गर्ल्स हॉस्टल पहले बॉयज हॉस्टल था, इसे बाद में गर्ल्स हॉस्टल में तब्दील किया गया है। हालांकि अभी कई बॉयज यहां रह रहे हैं। छात्रा ने दावा किया है कि हॉस्टल वार्डन और अन्य पदाधिकारी मामले को रफा-दफा करने की कोशिश कर रहे थे, जिसके बाद हमने विरोध प्रदर्शन किया। इससे पहले मोहाली के एसएसपी विवेक सोनी ने कहा था कि आरोपी स्टूडेंट ने पूछताछ में बताया है कि उसने किसी दूसरी छात्रा का वीडियो रिकॉर्ड नहीं किया है। उसने सिर्फ अपना ही वीडियो रिकॉर्ड करके भेजा है। एसएसपी के मुताबिक, आरोपी का मोबाइल फोन को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। 

यह खबर भी पढ़ें: World का सबसे Dangerous Border, बिना गोली चले हो गई 4000 लोगों की मौत, कुछ रहस्‍यमय तरीके से हो गए गायब

शिमला भेजी गई पुलिस टीम
मोहाली के एसएसपी (ग्रामीण) ने बताया कि आरोपी छात्रा के बॉयफ्रेंड के पूछताछ करने के लिए पुलिस टीम शिमला भेजी गई है। वह शिमला में रहता है। हॉस्टल वार्डन, जिसने छात्रा से वीडियो डिलीट करने के लिए कहा था, उससे भी पूछताछ की जाएगी। शुरुआती जांच में आरोपी ने बताया था कि उसने अपने वीडियो बॉयफ्रेंड के साथ शेयर किए। हॉस्टल की लड़कियों को बंद करने के आरोप झूठे हैं। 

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

सुसाइड और आपत्तिजनक वीडियो अफवाह: यूनिवर्सिटी प्रशासन
इस मामले में यूनिवर्सिटी के प्रो चांसलर डॉ। आरएस बावा ने 7 छात्राओं के सुसाइड अटैम्प्ट्स को लेकर कहा कि ये अफवाह है, किसी भी छात्रा ने ऐसे कदम उठाने की कोशिश नहीं की है। डॉ। बावा ने कहा कि एक और अफवाह है कि जो मीडिया के माध्यम से फैल रही है कि 60 आपत्तिजनक वीडियो पाए गए हैं। यह पूरी तरह से झूठ और निराधार है। विश्वविद्यालय की शुरुआती जांच के दौरान किसी भी छात्रा का ऐसा कोई वीडियो नहीं मिला है, सिवाय एक लड़की द्वारा शूट किए गए निजी वीडियो, जिसे उसने अपने बॉयफ्रेंड के साथ शेयर किया है। हालांकि उन्होंने कहा कि छात्रों की मांग पर यूनिवर्सिटी ने इस मामले की जांच पुलिस विभाग को सौंप दी, जिसने एक लड़की को हिरासत में लिया और आईटी अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज कर ली है।

यह खबर भी पढ़ें: भूल से महिला के खाते में पहुंचे 70 लाख डॉलर और फिर...

सबूत जुटाने में जुटी पुलिस
इससे पहले रविवार सुबह यूनिवर्सिटी कैंपस पहुंचे एसएसपी विवेक सोनी ने बताया था कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कर आरोपी छात्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के पास पर्याप्त सबूत हैं, लेकिन कुछ सबूत और भी जुटाने हैं। इसके साथ ही एसएसपी ने बताया कि आरोपी छात्रा शिमला में किसी शख्स को ये वीडियो बनाकर भेजती थी। हम इस मामले में भी जांच कर रहे हैं और पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि वहां वीडियो क्यों भेजे गए।   

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

खुदकुशी की घटना से पुलिस का इनकार 
पुलिस ने किसी भी तरह के सुसाइड के मामले को नकार दिया। उन्होंने बताया कि किसी भी तरह सुसाइड के प्रयास का कोई मामला हमारे संज्ञान में नहीं आया है। इस मामले में आईपीसी की धारा 354C और आईटी एक्ट 66A और 67A के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें कि शनिवार शाम करीब साढ़े सात बजे छात्राओं ने यूनिवर्सिटी हॉस्टल के बार जमकर हंगामा किया था। उनका आरोप था कि एक छात्रा ने नहाते समय उनका वीडियो बनाया है। छात्राओं के हंगामे का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।  

घटना के उच्च स्तरीय जांच के आदेश: भगवंत मान 
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी की घटना सुनकर दुख हुआ है। हमारी बेटियां हमारी शान हैं। घटना की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए हैं, जो भी दोषी होगा, सख्त कार्रवाई की जाएगी। मैं लगातार प्रशासन के संपर्क में हूं। मैं सबसे अपील करता हूं कि अफवाहों से बचें। 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

दोषियों को मिलेगी कड़ी सजा: केजरीवाल 
आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने इस घटना को संगीन और शर्मनाक बताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि यूनिवर्सिटी में एक लड़की ने कई छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड करके वायरल किए हैं। ये बेहद संगीन और शर्मनाक है। इसमें शामिल सभी दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी। पीड़ित बेटियां हिम्मत रखें। हम सब आपके साथ हैं। सभी संयम से काम लें। 

आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा: राज्य महिला आयोग प्रमुख 
पंजाब राज्य महिला आयोग की चेयरपर्सन ने कहा कि यह एक गंभीर मामला है और इसकी जांच की जा रही है। यूनिवर्सिटी पहुंचीं मनीषा गुलाटी ने कहा कि मैं यहां सभी छात्रों के माता-पिता को आश्वस्त करने के लिए हूं कि आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा।  

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा: शिक्षा मंत्री  
मोहाली की घटना को लेकर पंजाब सरकार के शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने छात्राओं से अपील की है कि शांति बनाए रखें, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने लिखा, 'मैं यूनिवर्सिटी के सभी छात्रों से अपील करता हूं कि शांत रहें, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। ये एक संवेदनशील मामला है और हमारी बहनों-बेटियों से संबंधित है। हमें बहुत सतर्क रहना चाहिए। एक समाज के रूप में यह हमारी भी परीक्षा है।' 

घटना में शामिल लोगों के खिलाफ हो कार्रवाई: सोम प्रकाश 
केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता सोम प्रकाश ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने कहा कि इसमें शामिल लोगों के खिलाफ गंभीर कार्रवाई करनी चाहिए ताकि ऐसी घटनाएं दोबारा न हों। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web