Bus corruption : 1000 DTC बस खरीद मामले में हुए भ्रष्टाचार पर LG सख्त, CBI जांच की दी मंजूरी

पिछले दिनों CBI ने दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर और उनके दूसरे ठिकानों पर तलाशी ली थी। 

 
Bus corruption : 1000 DTC बस खरीद मामले में हुए भ्रष्टाचार पर LG सख्त, CBI जांच की दी मंजूरी

नई दिल्ली। दिल्ली में आम आदमी पार्टी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने दिल्ली परिवहन निगम द्वारा 1,000 लो-फ्लोर बसों की खरीद में कथित भ्रष्टाचार की जांच के लिए सीबीआई को शिकायत भेजने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। मुख्य सचिव की रिपोर्ट के बाद LG ने ये फैसला लिया है। इससे पहले एलजी ने शराब घोटाले की जांच के भी आदेश दिए थे। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

पिछले दिनों CBI ने दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के घर और उनके दूसरे ठिकानों पर तलाशी ली थी। जिसके बाद दोनों पक्ष एक दूसरे पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते रहे हैं। भाजपा, दिल्ली सरकार पर न केवल शराब नीति बल्कि शिक्षा के क्षेत्र में भी भ्रष्टाचार का आरोप लगाती रही है।

बस खरीद मामले में CBI जांच पर दिल्ली सरकार का बयान भी सामने आया है। दिल्ली सरकार ने कहा कि टेंडर रद्द हो गए थे और बसे कभी खरीदी ही नहीं गईं। साथ ही कहा कि दिल्ली को ज़्यादा पढ़े लिखे LG की ज़रूरत है। क्योंकि मौजूदा LG को पता ही नहीं है कि वो किस पर हस्ताक्षर कर रहे हैं। दिल्ली सरकार ने कहा कि उपराज्यपाल पर खुद गंभीर भ्रष्टाचार के आरोप हैं।वह ध्यान भटकाने के लिए इस तरह की जांच के आदेश दे रहे हैं। इस तरह की जांचों से अब तक कोई नतीजा नहीं निकला है। उपराज्यपाल पहले खुद के ऊपर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों का जवाब दें।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

केजरीवाल ने किया था शक्ति परीक्षण
पिछले महीने सीएम केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि भाजपा दिल्ली में चुनी हुई सरकार को गिराने का प्रयास कर रही है। केजरीवाल ने यह भी दावा किया कि उनके विधायकों को खरीदने के लिए भाजपा ने 800 करोड़ रुपये रखे हैं। यहां तक ​​कि केजरीवााल ने विधानसभा में एक शक्ति परीक्षण भी किया था, केजरीवाल ने कहा था कि यह एक संदेश था कि सरकार को गिराने का प्रयास विफल हो गया है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web