Ankita Case: BJP नेता के बेटे पर फूटा महिलाओं का गुस्सा, पुलिस की गाड़ी रोक बीच सड़क पर पीटा

 
ankita muder case

पौड़ी गढ़वाल जिले में हुए अंकिता भंडारी हत्याकांड के आरोपियों को लेकर पुलिस न्यायालय में पेश करने के लिए कोटद्वार लेकर जा रही थी। लोगों ने पुलिस की गाड़ी रोककर तीनों आरोपियों को जमकर पीटा। अंकिता भंडारी यमकेश्वर विधानसभा इलाके के एक प्राइवेट रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी। जिसका संचालक बीजेपी नेता का बेटा पुलकित आर्य था।

पौड़ी गढ़वाल। उत्तराखंड में अंकिता हत्याकांड के आरोपियों पुलकित आर्य, अंकित और सौरभ भास्कर के साथ लोगों ने मारपीट की है। घटना उस वक्त हुई, जब आरोपियों को पुलिस न्यायालय में पेश करने के लिए कोटद्वार लेकर जा रही थी। इसी दौरान बैराज पुल से आगे कोडीया में सैकड़ों ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ी रोक ली। मामले में सभी आरोपियो को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

इस दौरान मामले को कवर कर रहे पत्रकारों के साथ भी ग्रामीणों ने अभद्रता की और उनके मोबाइल छीन लिए। गौरतलब है कि अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल जिले के यमकेश्वर विधानसभा इलाके के एक प्राइवेट रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी।

अंकिता भंडारी हत्याकांड

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

उसकी पहाड़ी से नीचे गंगा में धक्का देकर हत्या कर दी गई थी। अभी तक अंकिता का शव बरामद नहीं हुआ है। पुलिस और SDRF की टीमें तलाशी अभियान चला रही हैं। 19 साल की अंकिता 18-19 सितंबर से गायब थी। सोशल मीडिया पर गुमशुदा की तलाश के लिए कैंपेन चल रहा था। यहां देखें वीडियो।।।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

18 सितंबर को कर दी गई थी हत्या
इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने बताया कि 18 तारीख की रात में अंकिता की हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में बीजेपी नेता के बेटे पुलकित आर्य सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया। पुलकित आर्य के रिजॉर्ट में अंकिता रिसेप्शनिस्ट थी। 

मामले में डीजीपी अशोक कुमार ने कहा, "राजस्व पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज हुई थी। जो बीते दिन ही रेगुलर पुलिस को ट्रांसफर की गई। 24 घंटे में लक्ष्मण झूला पुलिस ने मुख्य आरोपी पुलकित आर्य सहित तीन आरोपियों ने गिरफ्तार कर लिया"।

अंकिता भंडारी हत्याकांड

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

पुलिस को बरगलाने की कोशिश
रिजॉर्ट के संचालक पुलकित आर्य ने पुलिस को बताया, "रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी एक अलग कमरे में रहती थी। कुछ दिनों से वह मानसिक तनाव से गुजर रही थी। इसी के चलते 18 सितंबर को उसे ऋषिकेश घुमाने के लिए ले गए थे।

अंकिता भंडारी हत्याकांड

उसने आगे बताया, "देर रात वहां से वापस लौट आए। इसके बाद रिजॉर्ट में बने अलग-अलग कमरों में सभी लोग सोने चले गए। मगर, 19 सितंबर की सुबह अंकिता अपने कमरे से गायब थी।" 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

"अपने घर" का सपना साकार करने का सबसे अच्छा मौका 

 JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स JAIPUR, मैन आगरा रोड, कनोता, गेटेड टाउनशिप, सभी सुविधाये, कॉल 9314188188

From around the web