नाराज दामाद ने ससुर के नाक कान काटे, इस कारण किया था ससुर पर हमला

 
नाराज दामाद ने ससुर के नाक कान काटे

बाड़मेर। पत्नी की दूसरी शादी से नाराज दामाद ने 10-12 लोगों के साथ मिलकर धारदार हथियार, लाठी-डंडो से ससुर पर जानलेवा हमला कर दिया। नाक-कान काट दिए और एक पैर भी तोड़कर वहां से फरार हो गए। 6 दिन बाद पुलिस ने दामाद सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है। घटना बाड़मेर जिले के सेड़वा थाने के सोनड़ी गांव की है।

दरअसल सोनड़ी निवासी विवाहिता सीमा की शादी खारा डेर ओगाला निवासी मनोहर पुत्र नारायणराम के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय तक पति-पत्नी साथ रहे, लेकिन इसके बाद दोनों के बीच अनबन हो गई। इसके बाद पत्नी पीहर आकर बैठ गई और ससुराल नहीं गई। पिछले 4-5 साल से विवाहिता पीहर में ही थी। अब पत्नी ने पति के साथ रहने से इनकार कर दिया और दूसरी जगह शादी के लिए तैयार हो गई।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

दूसरी शादी से नाराज दामाद ने किया हमला
इस पर विवाहिता सीमा के पिता सुखराम ने उसका दूसरी जगह मौखावा गुड़ामालानी रिश्ता कर दिया और 4-5 दिन पूर्व उसे वहां भेज दिया। जब इसकी भनक पूर्व पति और उसके परिजनों को लगी तो वो तिलमिला गए। वजह ये थी कि उनकी बिना किसी जानकारी के पत्नी की दूसरी शादी कर दी गई। 13 सितंबर को दिन में रैकी की तो पता चला कि उसका ससुर घर पर है और आसपास के लोग किसी रिश्तेदारी में गए हुए है। मौके का फायदा उठाते हुए मंगलवार रात को पति मनोहर विश्नोई सहित 10-12 लोग गाड़ियों में सवार होकर आए और ससुर सुखराम पर हमला कर दिया। नाक-कान काट कर साथ ले गए और लाठियों से एक पैर तोड़ दिया।

यह खबर भी पढ़ें: लंदन से करोड़ों की ‘बेंटले मल्सैन’ कार चुराकर पाकिस्तान ले गए चोर! जाने क्या है पूरा मामला?

बुजुर्ग सुखराम पर 10-12 लोगों ने किया हमला, गंभीर हालात में किया था जोधपुर रेफर।
बुजुर्ग सुखराम पर 10-12 लोगों ने किया हमला, गंभीर हालात में किया था जोधपुर रेफर।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

बेहोशी के हालात में छोड़ भागे थे
आदर्श सोनड़ी निवासी बुजुर्ग सुखराम (55) पुत्र रणजीताराम मंगलवार रात को घर पर सो रहा था। इस दौरान गाड़ियों में 10-12 लोग एक राय होकर आए और धारदार हथियार, लाठी-डंडों से हमला कर दिया। बुजुर्ग का चाकू से नाक व कान काट कर साथ ले गए। एक पैर भी तोड़ दिया। बेहोशी के हालात में छोड़ कर मौके से फरार हो गए। आसपास के लोगों ने बुजुर्ग को लहूलुहान हालात में सेड़वा अस्पताल लेकर आए। जहां से बाड़मेर लाया गया। जिला अस्पताल में बुजुर्ग का इलाज चल रहा है।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

मुख्य आरोपी सहित दो गिरफ्तार
एएसआई अचलाराम के मुताबिक बुजुर्ग की पत्नी मीरा की रिपोर्ट पर पुलिस ने ने 9 नामजद सहित अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू की। पुलिस ने मुखबिर व साइबर टीम की मदद से आरोपियों की लोकेशन को ट्रेस किया गया। एएसआई अचलाराम मय पुलिस टीम ने गांव बेड़ीया जालोर में दबिश दी। मुख्य आरोपी मनोहर उर्फ कंवराराम पुत्र श्री नारणाराम, गोगाराम पुत्र नारणाराम निवासी खारा डेर ओगाला को गिरफ्तार किया। पुलिस शेष आरोपियों की तलाश में जुटी है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web