Amit Shah: गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा में बड़ी चूक, काफिले में मचा हडकंप

 
amit shah

Amit Shah: टीआरएस नेता गोसुला श्रीनिवास ने हैदराबाद में गृह मंत्री अमित शाह के काफिले के सामने अपनी कार खड़ी कर दी। जिसके बाद गृह मंत्री की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाबालों ने उस कार को वहां से हटवाया।

हैदराबाद। Amit Shah: तेलंगाना के हैदराबाद दौरे पर गए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया है। यहां एक शख्स ने अपनी कार केंद्रीय मंत्री के काफिले के आगे अपनी कार रोक दी। जिसके बाद मौके पर हडकंप मच गया।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, टीआरएस नेता गोसुला श्रीनिवास ने हैदराबाद में गृह मंत्री अमित शाह के काफिले के सामने अपनी कार खड़ी कर दी। जिसके बाद गृह मंत्री की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाबालों ने उस कार को वहां से हटवाया।

amit shah t.jpg

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा


वहीं इसी मामले को लेकर कार मालिक और टीआरएस नेता गोसुला श्रीनिवास ने कहा कि, "कार चलते-चलते अचानक रुक गई। जिसके बाद मैं घबरा गया और तनाव में आ गया। सुरक्षाकर्मियों ने मेरी कार में तोड़फोड़ की। मैं जा ही रहा था, लेकिन यह कार्रवाई अनावश्यक रूप से की गई है।"

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

हैदराबाद मुक्ति दिवस मनाने के लिए शहर में अमित शाह 
बता दें कि आज गृह मंत्री अमित शाह हैदराबाद मुक्ति दिवस मनाने के लिए शहर में हैं।   वहीं इससे पहले हैदराबाद मुक्ति दिवस के कार्यक्रम में बोलते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि, लोगों की इच्छा थी कि ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ को मनाया जाए। अमित शाह ने कहा कि, ‘‘इतने साल बाद, इस भूमि के लोगों की इच्छा थी कि ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ को सरकार की भागीदारी से मनाया जाना चाहिए, लेकिन दुर्भाग्य की बात की है कि 75 साल बाद भी यहां शासन करने वाले वोट बैंक की राजनीति के कारण ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ मनाने का साहस नहीं जुटा पाए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कई लोगों ने चुनावों और विरोध प्रदर्शनों के दौरान मुक्ति दिवस मनाने का वादा किया, लेकिन जब वे सत्ता में आए, तो रजाकारों के भय से अपने वादों से मुकर गए’’ उन्होंने ‘हैदराबाद मुक्ति दिवस’ मनाने के फैसले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web