Ahmedabad: ऑटो रिक्शा चालक के घर डिनर करने पहुंचे सीएम अरविंद केजरीवाल, पुलिस के रोकने पर भड़के, देखें VIDEO

केजरीवाल ने कहा कि उन्हें सिक्यॉरिटी की जरूरत नहीं है। उन्होंने यहां तक कहा कि यदि उनके साथ कुछ होता है तो इसके वह खुद जिम्मेदार होंगे। 

 
Ahmedabad: ऑटो रिक्शा चालक के घर डिनर करने पहुंचे सीएम अरविंद केजरीवाल, पुलिस के रोकने पर भड़के, देखें VIDEO

अहमदाबाद। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को अहमदाबाद में एक ऑटो-रिक्शा चालक का निमंत्रण स्वीकार करने के बाद उसके घर जाकर रात का भोजन किया। इससे पहले उनकी पुलिसकर्मियों से तीखी बहस हुई। केजरीवाल ऑटो चालक के घर उसके ऑटो में ही बैठकर जाने की जिद पर अड़े थे, जबकि पुलिसकर्मी उन्हें सिक्यॉरिटी प्रोटोकॉल की वजह से इसकी इजाजत नहीं देना चाहते थे। इस केजरीवाल ने कहा कि उन्हें सिक्यॉरिटी की जरूरत नहीं है। उन्होंने यहां तक कहा कि यदि उनके साथ कुछ होता है तो इसके वह खुद जिम्मेदार होंगे। 


यह खबर भी पढ़ें: अनोखी परम्परा: यहां सिर्फ जिंदा ही नहीं बल्कि मर चुके लोगों की भी की जाती है शादी

AAP पार्टी के राष्‍ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल गुजरात दौरे पर हैं। अहमदाबाद के पांच सितारा होटल ताज में ठहरे केजरीवाल सोमवार रात एक ऑटो चालक के घर खाना खाने पहुंचे। उनके साथ गुजरात आप के अध्यक्ष गोपाल इटालिया और पार्टी के राष्ट्रीय संयुक्त महासचिव इसुदान गढ़वी और इंद्रनील राजगुरु भी थे। ड‍िनर के बाद केजरीवाल ने ट्वीट करके कहा क‍ि अहमदाबाद में ऑटो चालक विक्रमभाई दंताणी बड़े प्यार से अपने घर खाने पर लेकर गए। पूरे परिवार से मिलवाया। स्वादिष्ट खाने के साथ बहुत आदर-सत्कार दिया। इस अपार स्नेह के लिए विक्रमभाई और गुजरात के सभी ऑटो चालक भाइयों का ह्रदय से धन्यवाद।


अपने संबोधन के दौरान केजरीवाल ने कहा कि ऑटोरिक्शा चालकों ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में उनकी जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन्होंने चालकों से अनुरोध किया कि वे दिल्ली की तरह यहां भी अपने यात्रियों के बीच और सोशल मीडिया के माध्यम से AAP का प्रचार-प्रसार करें। उन्होंने कहा कि दिल्ली में उनकी सरकार ने कोविड-19 के कारण लागू लॉकडाउन के दौरान लगभग 1.5 लाख चालकों को दो बार 5-5 हजार रुपये का भुगतान किया। केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में आपको लाइसेंस के नवीनीकरण, स्वामित्व परिवर्तन और परमिट या आरसी से लोन हटवाने जैसे कार्यों के लिए क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है। हमने एक फोन नंबर दिया है। कॉल करें और दिल्ली सरकार का एक अधिकारी आपके दरवाजे पर खुद पहुंचेगा। 

यह खबर भी पढ़ें: इस गांव में लोग एक-दुसरे को सीटी बजाकर बुलाते हैं, जो लोग सीटी नहीं बजा पाते...

एक तरफ जहां केजरीवाल ने सिक्यॉरिटी लेने से इनकार किया तो वहीं पिछले महीने ही AAP पार्टी ने उन पर हमले की आशंका जाहिर की थी। 'AAP' नेताओं ने गुजरात के डीजीपी दफ्तर जाकर केजरीवाल और दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया पर हमले का खतरा बताया था। आप गुजरात लीगल सेल के प्रमुख गुलाब सिंह यादव की अगुआई में गुजरात डीजीपी आशीष भाटिया के दफ्तर में पहुंचा और एक आवदेन देते हुए दोनों नेताओं की सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग की थी। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web