DCW की अध्यक्ष को कार से घसीटने वाला आरोपी गिरफ्तार, स्वाति मालीवाल बोली- अंजलि जैसा हो सकता था मेरा हाल, लेकिन...

दावा किया जा रहा है कि इसमें नशे में धुत एक व्यक्ति स्वाति के साथ छेड़छाड़ और अपनी कार में बैठाने की जिद कर रहा है।
 
DCW की अध्यक्ष को कार से घसीटने वाला आरोपी गिरफ्तार, स्वाति मालीवाल बोली- अंजलि जैसा हो सकता था मेरा हाल, लेकिन...

नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़ का वीडियो सामने आया है। दावा किया जा रहा है कि इसमें नशे में धुत एक व्यक्ति स्वाति के साथ छेड़छाड़ और अपनी कार में बैठाने की जिद कर रहा है। मना करने पर वह बदसलूकी करता है और स्वाति को घसीटने की कोशिश करता है। बीजेपी सांसद मनोजी तिवारी ने इस घटना पर संदेह जताया है। बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने इस मामले को फर्जी बताया है। उन्होंने दावा किया कि गिरफ्तार किया गया ड्राइवर हरीश आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जरवाल का करीबी है। उन्होंने कहा, स्वाति मालीवाल गाड़ी के दूसरी तरफ क्यों गईं? यह घटना एक फर्जी स्टिंग ऑपरेशन की तरह है। पूरी घटना की गंभरता से जांच होना जरूरी है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

स्वाति अपनी टीम के साथ 18 जनवरी की रात दिल्ली की सड़कों पर महिला सुरक्षा के हालात का जायजा ले रही थीं। इसी दौरान एम्स हॉस्पिटल के पास उनके साथ छेड़छाड़ हुई। खुद स्वाति ने घटना के अगले दिन यह दावा किया। उन्होंने कहा कि आरोपी हरीश चंद्र ने उन्हें करीब 15 मीटर तक घसीटा। यह भी कहा कि उनके साथ अंजलि जैसी घटना होने वाली थी, लेकिन भगवान ने उन्हें बचा लिया। वीडियो में दिख रही युवती के स्वाति मालीवाल होने का दावा किया जा रहा है। वीडियो में युवती की आवाज स्पष्ट है। दिख रहा है कि स्वाति सड़क किनारे खड़े होकर इंतजार कर रही हैं। तभी उनके पास एक कार आकर रुकती है। 

यह खबर भी पढ़ें: Interesting : 78 साल के शख्स ने की 18 साल की लड़की से शादी, 2 साल से चल रहा था अफेयर!

ड्राइवर उन्हें गाड़ी के अंदर आने के लिए कहता है। इस पर स्वाति कहती हैं कि माफ करें, आपकी आवाज नहीं आ रही है। वीडियो में ड्राइवर की आवाज नहीं सुनाई दे रही। स्वाति आगे कहती हैं कि आप मुझे कहां छोड़ेंगे? मुझे घर जाना है, मेरे रिश्तेदार आ रहे हैं और इसके बाद कार सवार वहां से चला जाता है। कुछ देर बाद वह कार यूटर्न लेकर वापस आती है। स्वाति फिर ड्राइवर से पूछती हैं, आप वही व्यक्ति हैं, जिससे मेरी अभी बात हुई थी, आप मुझे छोड़ देंगे? आप मुझे कहां छोड़ेंगे? मैंने आपको कहा था ना मेरे रिश्तेदार आ रहे हैं। वीडियो में इसके बाद सुना जा सकता है कि ड्राइवर अचानक कार चलाने लगता है और स्वाति जोर से चिल्लाती हैं।


स्वाति ने एक न्यूज एजेंसी को बताया कि जब वे दिल्ली की सड़कों पर महिला सुरक्षा के हालात का जायजा ले रहीं थीं, तो नशे में धुत एक कार ड्राइवर उनके पास आया। उनके साथ छेड़छाड़ और गंदे इशारे किया। जब स्वाति उसे पकड़ने के लिए आगे बढ़ीं तो उसने गाड़ी के शीशे बंद कर दिए। इस दौरान स्वाति का हाथ शीशे में फंसा रह गया, लेकिन आरोपी रुका नहीं। वह करीब 15 मीटर तक स्वाति को घसीटता रहा। स्वाति ने कहा कि मेरी टीम के लोग कुछ दूरी पर मेरा इंतजार कर रहे थे। जब उन्होंने मुझे कार से घिसटते हुए देखा तो एक टीम मेंबर जोर से चिल्लाया। उसकी आवाज सुनकर आरोपी ने मुझे छोड़ा। अगर वो मुझे नहीं छोड़ता तो मेरे साथ वैसी ही घटना होती जैसी अंजलि के साथ हुई थी। स्वाति ने दिल्ली की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि भगवान ने मेरी जान बचाई है। अगर दिल्ली में महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं, तो फिर आम जनता का क्या होगा।

यह खबर भी पढ़ें: अनोखी शादी: दो महिलाओं ने एक ही लड़के से कर ली शादी, वजह जानकर आप भी रह जाओगे हैरान

दिल्ली में 31 दिसंबर 2022 की रात अंजलि को लगभग 12 किलोमीटर तक कार से घसीटा गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। स्वाति मालीवाल ने इस मामले में CBI जांच की मांग की थी। उन्होंने अंजलि की दोस्त निधि पर भी सवाल उठाए थे। स्वाति ने कहा था कि अंजलि का जब एक्सीडेंट हुआ, उस दौरान निधि भी साथ थी, लेकिन वह अंजलि को तड़पता छोड़कर भाग गई थी। स्वाति ने कहा था कि मुझे लगता है कि निधि को लेकर जांच होना बहुत जरूरी है। उसके सारे फोन रिकॉर्ड्स की चेकिंग होनी चाहिए। अंजलि चिल्ला रही थी, मदद मांग रही थी, लेकिन फिर भी निधि ने उसकी मदद नहीं की। तो वहीं, पुलिस के मुताबिक, 47 साल का आरोपी साउथ दिल्ली के संगम विहार का रहने वाला है। उसे अरेस्ट कर लिया गया है। उससे आगे की पूछताछ की जा रही है। इसकी जानकारी स्वाति मालीवाल ने पुलिस को 19 जनवरी की सुबह 3 बजे दी थी।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web