मुख्यमंत्री ने दी स्वीकृति, संस्कृत शिक्षा विभाग में 254 नवीन पदों के सृजन को मंजूरी

वर्तमान में संस्कृत शिक्षा विभाग में मंत्रालयिक संवर्ग के कुल 617 पद स्वीकृत हैं। 

 
मुख्यमंत्री ने दी स्वीकृति, संस्कृत शिक्षा विभाग में 254 नवीन पदों के सृजन को मंजूरी

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने संस्कृत शिक्षा विभाग में 254 नवीन पदों के सृजन के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। मुख्यमंत्री द्वारा प्रस्ताव के अनुमोदन से संस्कृत शिक्षा विभाग में मंत्रालयिक संवर्ग के अंतर्गत आने वाले पदों में कनिष्ठ सहायक के 168 एवं वरिष्ठ सहायक के 86 नए पद सृजित होंगे।

यह खबर भी पढ़ें: इस मंदिर में लोग भगवान को चढ़ाते हैं घड़ियां, वजह जानकर आप भी रह जाएंगें हैरान

वर्तमान में संस्कृत शिक्षा विभाग में मंत्रालयिक संवर्ग के कुल 617 पद स्वीकृत हैं। नए पदों की स्वीकृति के बाद अब कुल पदों की संख्या बढ़कर 871 हो जाएगी। गहलोत के इस निर्णय से संस्कृत शिक्षा विभाग में प्रशासनिक कार्यों के सुचारू एवं प्रभावी संचालन में आसानी होगी। साथ ही, विभाग के कार्मिकों की प्रशासन-प्रबंध संबंधी कार्यों से जुड़ी विभिन्न समस्याओं का त्वरित गति से निस्तारण किया जा सकेगा।

यह खबर भी पढ़ें: बंदरों की वजह से यहां नहीं हो रही लड़कियों की शादी, बारात लाने से भी डरते हैं लोग

उल्लेखनीय है कि हाल ही में संस्कृत कॉलेज शिक्षकों हेतु सातवां वेतनमान स्वीकृत करने तथा 80 संस्कृत कॉलेज शिक्षकों को पे-बैंड 4 का लाभ देने का निर्णय मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा लिया गया था। 2012 में पहली बार गहलोत द्वारा ही संस्कृत शिक्षकों के लिए यूजीसी पे-स्केल स्वीकृत किया गया।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web