गोदरेज कैपिटल का जयपुर में 10 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी का लक्ष्य

 
godrej capitals

जयपुर। गोदरेज समूह की वित्तीय सेवा शाखा गोदरेज कैपिटल ने जयपुर में अपना पहला कार्यालय खोलकर राजस्थान में कदम रख दिया है। कंपनी ने लोन अगेंस्ट प्रॉपर्टी (एलएपी) पर फोकस करते हुए 10 फीसदी बाजार हिस्सेदारी का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा, कंपनी वित्त वर्ष 23 की चौथी तिमाही में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एसएमई) के लिए अनसिक्योर्ड बिजनेस लोन भी लॉन्च करेगी और इसके तुरंत बाद, सप्लाई चेन फाइनेंसिंग के क्षेत्र में कदम बढ़ाएगी। अनसिक्योर्ड बिजनेस लोन के मामलों में 1-50 करोड़ रुपए के टर्नओवर वाले खुदरा व्यवसायों, व्यापारियों, निर्माताओं और सेवा प्रदाताओं सहित एसएमबी पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

जयपुर गोदरेज कैपिटल के लिए एक महत्वपूर्ण बाजार है, क्योंकि एलएपी और बिजनेस लोन के मामलों में निजी ऋणदाताओं का खाता प्रति वर्ष 5000 करोड़ रुपए का है। कंपनी संचालन के पहले 18 महीनों में कुल बाजार हिस्सेदारी का 10 प्रतिशत लक्षित करने की योजना बना रही है। इसने एमएसएमई में विभिन्न उत्पाद पेशकश प्रदान करने के लिए जयपुर में 40 से अधिक चैनल भागीदारों के साथ साझेदारी की है।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

गोदरेज कैपिटल ने 3500 करोड़ की बैलेंस शीट के साथ वित्तीय वर्ष की पहली छमाही का समापन किया है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2023 में इसे 6,000 करोड़ रुपए तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा है और 2026 तक 30,000 करोड़ रुपए तक ले जाने का लक्ष्य रखा गया है। 970 से अधिक चैनल भागीदारों और 270 से अधिक डेवलपर्स के विशाल नेटवर्क के साथ, गोदरेज कैपिटल होम लोन और प्रॉपर्टी पर लोन के लिए करीब 7,000 ग्राहकों को सेवा प्रदान करता है।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही
गोदरेज कैपिटल के एमडी और सीईओ मनीष शाह ने कहा, ‘‘एक कंपनी के रूप में, हम अपने मौजूदा कार्य संचालन को और बढ़ाना चाहते हैं और इनोवेटिव प्रोडक्ट्स के माध्यम से अपनी पेशकशों का विस्तार करना चाहते हैं। जयपुर में अपार क्षमता है और राजस्थान में हमारी विस्तार यात्रा शुरू करने के लिए यह एक महत्वपूर्ण बाजार है। हम एमएसएमई सेगमेंट में उधार बढ़ाने की सोच रहे हैं, ऐसी सूरत में हमारा ध्यान जयपुर में व्यापार मालिकों के साथ साझेदारी करने पर है ताकि वे क्षमता में वृद्धि कर सकें।’’

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

एमएसएमई सेगमेंट के लिए अपनी पहुंच को और व्यापक करने और पहले से अधिक ऑफर्स प्रस्तुत करने के लिहाज से कंपनी ने हाल ही में आय के कई रूपों का आकलन करने के लिए विशेषज्ञता के साथ ‘नियोलेप’ पेश किया, इस प्रकार व्यापार मालिक बाजार से अन्यथा प्राप्त होने वाली राशि की तुलना में अधिक ऋण राशि प्राप्त कर सकते हैं।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

गोदरेज कैपिटल ई-हस्ताक्षर और डिजिटल लोन एप्लीकेशंस जैसे इनोवेटिव ऑफर्स के माध्यम से उत्पादों और सेवाओं में संपूर्ण डिजिटल सेवाएं प्रदान करता है। इसके अलावा, व्यवसाय के मालिक ‘डिजाइन योर ईएमआई’ कार्यक्रम के तहत केवल 3 साल तक के लिए ब्याज भुगतान और त्रैमासिक या द्विमासिक किस्त भुगतान जैसे पुनर्भुगतान विकल्पों को चुन सकते हैं। अपने फ्लेक्सिबल ऑफर्स के साथ  गोदरेज कैपिटल एसएमई सेगमेंट के लिए पसंदीदा ऋणदाता बनने का प्रयास करता है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

 

From around the web