इ-कॉमर्स कम्पनियो में नौकरी की बाढ़ देने के लिए तैयार करोड़ो रूपये

 

नई दिल्ली। कई प्रकार की सर्च कंपनियों के द्वारा लगाए गए अनुमान के अनुसार इस वर्ष ई-कॉमर्स कंपनियों करोड़ों की सैलरी वाली नौकरियों की अच्छी खुशखबरी आने वाली है। आरजीएफ ऐग्जिक्युटिव सर्च, लॉन्गहाउस कंसल्टिंग और एबीसी कंसल्टेंट्स सहित पांच सर्च कंपनियों का यह आंकलन लगाया है।

अनुमान के अनुसारजिन कंपनियों में करोड़ों रूपयों की सैलरी वाली नौकरियां उपल्वध होंगी उनमें फ्लिपकार्ट, ऐमजॉन, स्नैपडील, ओला, उबर, क्विकर, कॉमनफ्लोर, येपमी, ओएलएक्स, जंगली, फैशनऐंडयू, हंगामा, बुकमायशो, जबॉन्ग, क्लियरट्रिप, लेंसकार्ट इत्यादि प्रमुख हैं। इनमें भी फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन में सबसे अधिक नौकरियां मिलने की उम्मीद है।

एबीसी कंसल्टेंट्स के डायरेक्टर सिद्धार्थ रायसुराना के अनुसारगत छह माह से एबीसी ने ई-कॉमर्स कंपनियों के लिए 100 से भी ज्यादा उच्चस्तरीय पदों की भर्ती के लिए कर्मचार सर्च कर रही हैं। वहीं, कंसल्टिंग कंपनी लॉन्गहाउस कंसल्टिंग को एक  में एक माह में दर्जन से ज्यादा अधिकारियों की खोज करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। लॉन्गहाउस कंसल्टिंग के मैनेजिंग पार्टनर अंशुमान दास के अनुसार उनकी कंपनी की 70 से 80 फीसदी कमाई ई-कॉमर्स कंपनियों से ही जाती है। उम्मीद जताई जा रही है  कि इस वर्ष 180 से 200 अधिकारियों की नियुक्ति का जिम्मा उनकी कंपनी को मिलेगा जो गत वर्ष 75-85 था।

आरजीएफ ऐग्जिक्युटिव सर्च के ऐग्जिक्युटिव डायरेक्टर जी सी जयप्रकाश के अनुसार ई-कॉमर्स कंपनियों में उच्च पदों पर रोजाना कम से कम एक नियुक्ति उनकी कंपनी के माध्यम से हो रही है। उनका अनुसार  कि कंपनियां काबिल अधिकारियों को मोटी सैलरी देने से नहीं हिचक रही हैं।

स्नैपडील के एचआर वाइस प्रेजिडेंट सौरभ निगम के मुताबिक लीडरशिप पोजिशन पर हायरिंग बढ़ी है, क्योंकि कंपनी का बिजनस में भी बढोतरी हुयी है। उन्होंने बताया कि, 'हमारी टीम में फिलहाल 5000 कर्मचारी हैं और हमें लीडरशिप हायरिंग बढ़ाने की जरूरत है।Ó

From around the web