गुलाबजल से निखारे अपना सौंदर्य सिर दर्द से छुटकारा दिलाएंगे ये घरेलू नुस्खे ममता बनर्जी ने बुद्धदेव भट्टाचार्य से मुलाकात की बेंगलूरू: दो मंजिली इमारत ध्वस्त होने से सात की मौत सम्पत्ति विवाद में पिता की गोली मारकर हत्या राजस्थान: विभिन्न अपराधों में लिप्त छह सौ चौदह लोग गिरफ्तार कश्मीर में पूर्व सरपंच की हत्या, मुठभेड़ में एक आतंकी ढेर Asia Cup: भारतीय महिला हॉकी टीम घोषित, रानी बनी कप्तान जीटीबी स्कूल में यौन शोषण के प्रति छात्राओं को किया जागरूक शिक्षा नहीं, भीख मांगने का दिया जाता है प्रशिक्षण दीवाली बोनस को लेकर चर्चा में रहने वाले ढोलकिया एक फिर चर्चा में, वजह जानकर रह जायेंगे हैरान- B' Day Special: हेमा मालिनी ने मनाया 68वां जन्मदिन, जानिए इनसे जुडी... वीडियो : आरुषि-हेमराज मर्डर केस में तलवार दंपति डासना जेल से बाहर आए केंद्रीय गृह मंत्री ने जोधपुर में आईबी के पश्‍चिमी जोन क्षेत्रीय प्रशिक्षण केंद्र का किया उद्घाटन अनुपम खेर ने संभाला FTII के चेयरमैन पद का कार्यभार जेल जाने से पहले हनीप्रीत मिली अपने परिवार से, माँ- बाप से लिपटकर जताया अपना दुःख ऑस्ट्रेलिया के इस खिलाड़ी ने 35 ओवर के घरेलू मैच में जड़ा तिहरा शतक, 40 छक्के ठोके 2 हजार 45 एएनएम पदों पर दीपावली से पूर्व जारी होंगे पदस्थापन आदेश रेप के आरोपी जैन मुनि को कोर्ट ने भेजा जेल, मुनि बोले- लड़की के साथ सब सहमति से हुआ अगर आपने धनतेरस पर ये चीज खरीद रहे है तो हो सकता है बड़ा नुकसान
DNC की कथित हैकिंग के पीछे हो सकता हैं रूस का हाथ : ट्रम्प
sanjeevnitoday.com | Thursday, January 12, 2017 | 02:00:23 AM
1 of 1

वॉशिंगटन। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने बुधवार को अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में डेमोक्रैटिक नैशनल कमिटी की कथित हैकिंग के पीछे रूस का हाथ होने की बात स्वीकार की। हालांकि ट्रंप ने साथ ही कहा कि रूस दोबारा ऐसा नहीं करेगा और उनके नेतृत्व में रूस का अमेरिका के प्रति सम्मान और बढ़ेगा। नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का उन्हें पसंद करना उनकी एक उपलब्धि है, देनदारी नहीं। उन्होंने कहा, 'ट्रंप प्रशासन के अंदर रूस का अमेरिका के प्रति सम्मान ज्यादा बढ़ेगा।' ट्रंप ने साथ ही रूस के पास उनके बारे में कुछ गोपनीय सामग्री की खबरों को किसी बीमार व्यक्ति के दिमाग की उपज बताया। ट्रंप ने इन खबरों को फर्जी करार दिया। अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप को लेकर बुधवार को सनसनीखेज दावे सामने आए जिनमें कहा गया है कि उनको रूस ने कई वर्षों से ‘तैयार किया है’ और मॉस्को के पास उनको लेकर नितांत व्यक्तिगत सूचना है। इसको खारिज करते हुए ट्रंप ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की और कहा कि यह 'नाजी जर्मनी में रहने' जैसा है। हिलरी क्लिंटन को हराने में रूस की हैकिंग से मदद मिलने के आरोपों पर ट्रंप ने कहा, रूस एक मात्र ऐसा देश नहीं है जो अमेरिका पर साइबर अटैक करता है बल्कि चीन जैसे देश भी ऐसा करते रहे हैं।

सबसे ज्यादा नौकरी पैदा करने वाला देश
हिलरी क्लिंटन पर पलटवार करते हुए ट्रंप ने कहा, डीएनसी के लीक दस्तावेजों से यह भी पता चलता है कि क्लिंटन को डिबेट के सवाल पहले से ही उपलब्ध करा दिए गए थे। उन्होंने कहा, अगर हिलरी की जगह उन्हें सवाल मिल गए होते तो खबरों के इतिहास में यह सबसे बड़ी खबर बन गई होती।
नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप ने अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया कि वह रोजगार के अब तक के सबसे बड़े सृजनकर्ता होंगे। उन्होंने कहा कि उनका कार्यकाल बहुत खास होगा और उनके कार्यकाल में अमेरिका सबसे ज्यादा नौकरी पैदा करने वाला देश बनेगा। अमेरिका की नौकरियां बाहर भेजने वाली कंपनियों पर भारी-भरकम टैक्स लगाया जाएगा। ट्रंप वाइट हाउस में अपने दो कार्यकाल के बारे में भी आश्वस्त दिखाई दिए। उन्होंने कहा, उम्मीद है कि मेरी अनुपस्थिति में मेरे दोनों बेटे अच्छे से अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे ताकि 8 साल बाद मैं उन्हें कह सकूंगा कि उन्होंने बेहतरीन काम किया।

अमेरिकियों को किया आश्वस्त
रूस से अपने व्यापार-हित जुड़े होने के संबंध पर भी ट्रंप ने जवाब दिया। ट्रंप बोले, उनकी कंपनी की ना रूस के साथ और ना ही रूस के भीतर कहीं कोई डील हुई है और ना ही रूस के साथ उनकी कंपनी की किसी तरह की देनदारी है। नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिकियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि उनके व्यावसायिक हित उनके कार्यकाल को किसी भी रूप में प्रभावित नहीं करेंगे क्योंकि उन्होंने खुद को पूरी तरह से अपने बिजनस से अलग कर लिया है और यह जिम्मेदारी अब उनके दोनों बेटे संभालेंगे। ट्रंप की वकील शेरी डिलन ने कहा कि ट्रंप अपनी वित्तीय और बिजनस पूंजी को एक ट्रस्ट में लगाएंगे और साथ ही संगठन उनके कार्यकाल तक किसी समुद्रपारीय डील में नहीं लिप्त होगा। ट्रंप के होटलों को विदेशी सरकारों से हुए लाभ को अमेरिकी खजाने में रखा जाएगा। ट्रंप ने कहा कि वह चाहते तो सरकार और व्यापार दोनों एक साथ चला सकते थे लेकिन उन्होंने स्वेच्छा से ऐसा नहीं किया।

यह भी पढ़े: वेश्यावृति के धंधे की ये सच्चाई जान हैरान रह जायेंगे आप

यह भी पढ़े: 7 साल के इस बच्चे के मुंह से डॉक्टरों ने निकाले 80 दांत!

यह भी पढ़े: क्राइम ! प्रेमी नौकर के साथ बेड पर थी बहु तभी आ गयी सास और फिर...प्राइवेट पार्ट

यह भी पढ़े: मां के लिए ठुकराई गिफ्ट में मिली BMW कार...जानें क्यों?



FROM AROUND THE WEB

0 comments

© 2015 sanjeevni today, Jaipur. All Rights Reserved.