Live Updates/किसान आंदोलन को मिला यूथ कार्यकर्ताओं का समर्थन, हर कस्बे से जुटाई एक एक मुट्ठी मिट्टी

 


नई दिल्ली। तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन का आज 52वां दिन है। किसानों के इस शांत आंदोलन की ‘ताकत’ भी लगातार बढ़ती जा रही है। ठंड की परवाह किए बिना हरियाणा, पंजाब, यूपी, राजस्थान समेत अन्य राज्यों से किसानों के जत्थे रसद के साथ लगातार धरनास्थल पर पहुंच रहे हैं। इस बीच किसान आंदोलन को अब यूथ कार्यकर्ताओं का समर्थन भी मिलने लगा है। 

भारतीय युवा कांग्रेस के आह्वान पर युवा कांग्रेस विधानसभा क्षेत्र में सोमेश्वर के कार्यकर्ताओं ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए सोमेश्वर विधानसभा क्षेत्र के हर कस्बे से एक एक मुट्ठी मिट्टी जुटाई। केंद्र सरकार से जल्द किसान विरोधी तीनों बिलों को वापस लेने की मांग की गई। 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने युवा कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश नेगी के नेतृत्व में सोमेश्वर विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक कस्बे से एक मुट्ठी खेतों की मिट्टी एकत्र की। अब इस मिट्टी को दिल्ली बॉर्डर में चल रहे किसान आंदोलन स्थल में भेजा जाएगा। जहां पर पूरे देश से एकत्र की गई मिट्टी से भारत का मानचित्र बनाया जाएगा।

गौरतलब है कि कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान 28 नवंबर से यूपी गेट पर डेरा डाले हुए हैं और 3 दिसंबर से NH-9 के गाजियाबाद-दिल्ली कैरिजवे को भी बंद कर दिया है। उधर, सुप्रीम कोर्ट के कमेटी वाले फैसले पर भी किसान संगठन संतुष्ट नजर नहीं आ रहे हैं। आंदोलनरत किसानों की मांग तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने और एमएसपी पर कानून बनाए जाने की है। इसके मद्देनजर दिल्ली की सीमाओं पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सिंघु बॉर्डर पर भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया। 

यह खबर भी पढ़े: Youtube में आएगा नया फीचर, यूजर्स वीडियो से सीधा खरीद सकेंगे प्रोडक्ट्स

 

From around the web