मासूम बच्चे को जहर पिलाने के बाद महिला ने पीया जहर, मां की मौत

 


हमीरपुर। ललपुरा थाना क्षेत्र के सहुरापुर गांव में बेटी की छठी कार्यक्रम में ससुराल पक्ष से किसी के न आने से क्षुब्ध एक महिला ने बुधवार को अपने चार साल के बच्चे को जहर पिलाने के बाद खुद जहर खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गयी। वहीं बच्चे की हालत गंभीर बतायी जा रही है। इस घटना से परिजनों में कोहराम मच गया है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है। 

ललपुरा क्षेत्र के ललपुरा थानाक्षेत्र के सहुरापुर गांव निवासी मर्री निषाद ने बताया कि अपनी पुत्री सोनी 30 की शादी आठ वर्ष पूर्व कोतवाली क्षेत्र के ब्रम्हाडेरा निवासी भोला निषाद के साथ हुई थी। बताया कि दामाद भोला गुजरात के सूरत में मजदूरी करता है। बताया कि दामाद उसकी पुत्री के साथ आएदिन मारपीट करता था। जिसके चलते करीब पांच माह पूर्व ससुर कल्लू गर्भवती सोनी को मायके छोड़ गया था। तब से ससुरालीजन सोनी को लिवाने नहीं आए। इधर करीब दो माह पूर्व सोनी ने एक पुत्री को जन्म दिया। 

मायके में धूमधाम के साथ छठी कार्यक्रम मनाया गया। जिसमें गांव व अन्य रिश्तेदार शामिल हुए। मगर कार्यक्रम में ससुराल पक्ष से कोई शामिल नहीं हुआ। जिससे सोनी तनाव में रहने लगी और बुधवार की सुबह करीब 11 बजे सोनी ने घर में पहले खुद जहर पीया और फिर उसने अपने चार वर्षीय पुत्र सनी उर्फ कल्लू को भी जहर पिला दिया। कुछ देर बाद दोनों की हालत बिगड़ने पर सनी की नानी मर्री 108 एंबुलेंस से दोनों को लेकर जिला अस्पताल पहुंची। जहां करीब सवा एक बजे सोनी की उपचार दौरान मौत हो गई। जबकि सनी का उपचार चल रहा है। घटना के समय घर में सिर्फ बहू रोशनी थी। जबकि अन्य लोग खेतों में काम करने गए थे। कोतवाल तारा सिंह पटेल ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा गया है।

यह खबर भी पढ़े: कृषि कानून पर अमल रोकने की सरकार की पेशकश, 22 जनवरी को समाधान की उम्मीद

From around the web