Ram Mandir: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति कोविंद ने दिया इतने लाख रुपये का चंदा, 27 फरवरी तक चलेगा चंदा जुटाने का काम

 


नई दिल्ली। अयोध्या में बनने वाले भव्य राम मंदिर के लिए 'निधि समर्पण अभियान' की शुरुआत  हो गई है। इस अभियान की शुरुआत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से हुई। राष्ट्रपति कोविंद ने राम मंदिर निर्माण के लिए 5 लाख 100 रुपये का चंदा दिया। ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी, VHP कार्याध्यक्ष अलोक कुमार, राममंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा और संघ (RSS) के प्रांत संघचालक श्री कुलभूषण आहूजा ने शुक्रवार सुबह 11 बजे राष्ट्रपति से मुलाकात की। इस दौरान राष्ट्रपति कोविंद ने मंदिर निर्माण के लिए ये रकम दी।

जानकारी के अनुसार विश्व हिंदू परिषद का यह अभियान दो चरणों में 44 दिनों तक चलेगा। पहला चरण 15 से 31 जनवरी तक चलेगा, जिसमें VHP मंदिर निर्माण के लिए देश के प्रतिष्ठित लोगों से चंदा मांगेगी। वहीं दूसरा चरण 1 फरवरी से शुरू होगा और 27 फरवरी को समाप्त होगा, जिसमें देश के आम लोगों से चंदा मांगा जायेगा।

शिवराज ने दिया एक लाख रुपये का चेक

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र निधि संग्रह अभियान में भगवान राम के मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद के विनायक राव देशमुख जी को एक लाख रुपये का चेक प्रदान किया।

इसके अलावा विश्व हिंदू परिषद के कुछ नेता मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से चंदा मांगेंगे। बता दें कि राम मंदिर के लिए चंदा जुटाने का अभियान शुक्रवार से शुरू हो रहा है। इस अभियान के तहत पांच लाख से ज्यादा गांवों के 12 करोड़ से ज्यादा परिवारों से संपर्क किया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक मंदिर बनाने के लिए चंदा जुटाने का काम 27 फरवरी तक चलेगा। अभियान के तहत राम मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद लोगों का समर्पण और सहयोग राशि मिलेगी। इस दौरान दस रुपये, 100 रुपये, 1,000 रुपये के कूपन होंगे। वहीं 2,000 से ज्यादा सहयोग करने वालों की रसीद दी जाएगी। इस चंदे के माध्यम से अयोध्या में श्रीराम जी का भव्य मंदिर का निर्माण कार्य किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़े: नेपाली नाबालिग लड़की को बंदी बनाकर किया बलात्कार, और अपने दोस्तों से पैसे लेकर उसके साथ...

From around the web