प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना टीकाकरण अभियान का 06 स्थानों पर एलईडी वैन के जरिए किया लाइव प्रसारण

 


वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुनिया के सबसे बड़े कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान की शनिवार को शुरूआत वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कर दी। उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में टीकाकरण को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों के साथ आम लोगों में भी उत्साह रहा। सूचना विभाग ने शहर में कैंट, नदेसर, मंडुवाडीह, काशी स्टेशन एवं कबीरचौरा सहित कुल 06 स्थानों पर एलईडी वैन के माध्यम से प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का लाइव प्रसारण लोगों को दिखाने के लिए व्यवस्था की थी। दिन में कोहरे और कड़ाके की ठंड के बावजूद लोग प्रधानमंत्री को सड़क किनारे खड़े होकर उत्साह के साथ सुनते रहे। 

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि बहुत कम समय में कोरोना वैक्सीन भारत में आ गई है। आज दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू हो रहा है। उन्होंने कहा कि एक वैक्सीन बनाने में वर्षों लग जाते हैं। लेकिन इतना कम समय में मेड इन इंडिया का दो-.दो वैक्सीन बना है। जो भारत के वैज्ञानिक दक्षता व प्रतिभा का उदाहरण है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सेवा के लोगों का पहला हक वैक्सीन पर है। जिन्होंने संकट की घड़ी में आगे बढ़कर और बढ़-चढ़कर लोगों की सहायता की है। उन्हें पहले वैक्सीन लगेगी। फिर दूसरे चरण में सुरक्षा कर्मियों एवं अन्य फ्रंटलाइन वर्करों को कोरोना वैक्सीन  लगाई जाएगी । इनकी संख्या 3 करोड़ है सभी खर्च भारत सरकार उठाएगी। 

’जिलाधिकारी की देखरेख में टीकाकरण कार्यक्रम का आगाज
वाराणसी में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा की देखरेख में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत हुई। जिलाधिकारी ने राजकीय महिला चिकित्सालय कबीरचौरा एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय का दौरा कर कार्यक्रम की मानिटरिंग स्वयं की। उन्होंने राजकीय महिला चिकित्सालय कबीरचौरा में अपनी देखरेख में कोरोना वैक्सिनेशन कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत करायी। 

चिकित्सालय में कोरोना वैक्सिनेशन कार्यक्रम का पूरे उल्लास के साथ शुरुआत की गई। इस अवसर पर वैक्सीनेशन वार्ड को फूल पत्ती एवं गुब्बारों से पूरी तरह सजाया गया था। राजकीय महिला चिकित्सालय में वैक्सीनेशन हाल परिसर में लगे बड़े एलइडी स्क्रीन पर प्रधानमंत्री द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा किए गए कोरोना वैक्सीनेशन शुभारंभ कार्यक्रम की सीधा प्रसारण को देखा गया। 

इस दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. वीबी सिंह सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

यह खबर भी पढ़े: डॉक्टरों को चिट्ठी लिखकर ममता ने फिर किया फ्री वैक्सीन देने का दावा, चढ़ सकता है सियासी पारा

From around the web