हाथरस कांड: पीड़ित परिवार की सुरक्षा में लगे है 80 जवान, रोजाना इतने लाख रूपए हो रहे हैं खर्च

 


नई दिल्ली। हाथरस कांड की पीड़िता की मृत्यु हो चुकी है। इस जघन्‍य वारदात को अंजाम देने वाले चारों आरोपी जेल में हैं एवं सीबीआई  मामले की छानबीन में जुटी हुई है। बीते रविवार को ही आरोपियों को पॉलीग्राफी टेस्ट हेतु गुजरात ले जाया गया है। इसके साथ ही उच्चतम न्यायालय के आदेश पर पीड़िता के परिवार की सुरक्षा की जा रही है। 

हाथरस कांड: पीड़ित परिवार की सुरक्षा में लगे है 80 जवान, रोजाना इतने लाख रूपए हो रहे हैं खर्च

सुरक्षा हेतु केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 80 जवानों को तैनात किया गया है। 1 नवंबर को ही जवानों की तैनाती कर दी गई थी। एक अनुमान की माने तो, 22 दिन से 80 जवानों पर 1.5 लाख रुपये रोजना व्यय हो रहे हैं। 

सीआरपीएफ के रिटायर्ड आईजी वीपीएस पनवर के मुताबक, जब सुरक्षा हेतु सीआरपीएफ के जवान जाते हैं तो वो मूवमेंट कंपनी के हिसाब से होती है। उस स एक कंपनी में एडमिन स्टाफ सहित, कुक, नाई, वाशरमैन एवं फील्ड डयूटी करने वाले जवान सम्मिलित होते हैं।

हाथरस कांड: पीड़ित परिवार की सुरक्षा में लगे है 80 जवान, रोजाना इतने लाख रूपए हो रहे हैं खर्च

सीआरपीएफ से रिटायर्ड आरएस यादव की माने तो, हाथरस वाले मामले में यदि हम 80 जवानों को ही मान लेवे तो उनका खर्च भी रोजाना का करीब डेढ़ से पौने दो लाख रुपये होता है। इसके सिवा सुबह का नाश्ता, दोपहर और रात का भोजन भी है। जब जवान फील्ड डयूटी में होते हैं तो और दूसरे व्यय भी होते हैं। इस हिसाब से एक जवान पर लगभग पौने दो हजार का व्यय आता है। 

यह खबर भी पढ़े: फैट को तेजी से पिघलाने में कारगर है फूलगोभी! जानें अन्य कमाल के फायदे

From around the web