अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए निधि संग्रह अभियान का आगाज, टोली में निकले कार्यकर्ता

 


वाराणसी। रामनगरी अयोध्या में जन्मस्थान पर भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिन्दू परिषद ने शुक्रवार से निधी संग्रह अभियान की शुरूआत कर दी है। शुरूआत बाबा विश्वनाथ के दरबार में दर्शन पूजन से हुई। पहली रसीद बाबा विश्वनाथ को अर्पित की गई।  परिषद के उत्तर जिला के कार्यकर्ताओं ने काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव का दर्शन-पूजन कर पहला कूपन बाबा को समर्पित कर अभियान का आगाज किया। शहर की महापौर डॉ. मृदुला जायसवाल ने मंदिर के लिए एक लाख 11 हजार रूपये समर्पित किया।

दर्शन पूजन के बाद शहर उत्तरी के अभियान प्रमुख राजन तिवारी के नेतृत्व में कार्यकर्ता निधि संग्रह के लिए मोहल्लों की ओर रवाना हो गये। अभियान प्रमुख राजन तिवारी ने बताया कि पूरे शहर में कार्यकर्ता टोलियों में घर-घर धन संग्रह के लिए रसीद और कूपन लेकर जा रहे हैं । विशेष सम्पर्क के लिए प्रांत सह अभियान प्रमुख डॉ. रंजना श्रीवास्तव, श्रीमती अंजू सिंह, श्रीमती वैदेही सिंह माताओं एवं बहनों के साथ अभियान में निकली है।

’एक भी हिन्दू छूटा-आध्यात्मिक चक्र टूटा’ के जयघोष के साथ कार्यकर्ता समाज के अन्तिम व्यक्ति तक समर्पण अभियान में जायेंगे। परिषद के महानगर अध्यक्ष कन्हैया सिंह ने बताया कि धन संग्रह अभियान के लिए जिले को दो भागों में बांटा गया है। दक्षिण और उत्तर जिला बनाया गया है। हर जिले में 12 नगर बनाए गए हैं। एक नगर में 10 बस्तियां है।  ऐसे में एक जिले में कुल 120 बस्तियां हैं। 

उत्तरी व दक्षिणी जिला को मिलाकर कुल 240 बस्तियों की संरचना की गई है। धन संग्रह के लिए हर टोली में  परिषद के साथ आरएसएस, संत समाज, भाजपा, बजरंग दल के कार्यकर्ता भी शामिल किये गये हैं। पूरे अभियान की निगरानी जिला स्तर से लेकर केंद्र स्तर तक होगी। परिषद मकर संक्रांति से माघी पूर्णिमा तक देशव्यापी धन संग्रह अभियान चलाएगा।

यह खबर भी पढ़े: एक प्रेम कहानी का खौफ़नाक अंत : प्रेमी के साथ जीने मरने की कसम खाकर माता-पिता का घर छोड़ा, उसी ने की उसकी दर्दनाक हत्या

यह खबर भी पढ़े: निया शर्मा ने खरीदी एक खूबसूरत और लग्जरी कार, वीडियो और तस्वीरें की शेयर

From around the web