अयोध्या में बन रहे देश की भावनाओं के राममंदिर के लिए करें योगदान : भवानी सिंह

 


बलिया। प्रदेश के ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल ने रविवार को शहर के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में मकर सक्रांति महोत्सव का आयोजन किया। इसमें सांस्कृतिक राष्ट्रवाद की बयार बही। इसमें बतौर मुख्य अतिथि भाजपा के प्रदेश सह संगठन महामंत्री भवानी सिंह ने कहा कि अयोध्या में निर्मित हो रहा भव्य श्रीराममंदिर भारत के लोगों के भावनाओं का मंदिर है।

भवानी सिंह ने कहा कि मातृ शक्ति इस देश की दशा और दिशा बदलेगी। जिसके लिए देश और प्रदेश की सरकारों ने अभूतपूर्व काम किए हैं। कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड काल में 80 करोड़ लोगों को जिस तरह से अनाज से लेकर हर सुविधा मुहैया कराया। यह कार्य ऐसे ही नेताओं के बूते की बात है। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में सरकारी योजनाओं का पैसा बीच में ही गायब हो जाता था। अब यह सरकार जिस संवेदना के साथ कार्य कर रही है। सभी योजनाओं का लाभ सही व्यक्ति तक जाता है।

भवानी सिंह ने कहा कि जो लोग कहते थे कि धारा 370 कभी खतम नहीं होगा, वे आज कहां हैं? यह भाजपा ही है, जिसने श्रीराम मंदिर को साकार होने में अहम भूमिका निभाई। यह भावनाओं का प्रतीक है। भवानी सिंह ने कहा कि भावनाओं के इस मंदिर में जो भी सामर्थ्य है, उसके अनुसार जरूर योगदान दें। मस्त ने कहा कि मकर संक्रांति सामाजिक समरसता का अनूठा पर्व है। बलिया में जो प्रशासनिक क्षेत्र में जो काम नहीं करता है, उसका जीवन अधूरा है। हर जनपद का प्रतिनिधित्व बार-बार बलिया का प्रतिनिधित्व एक बार। 

आनंद स्वरूप शुक्ल ने कहा कि पीएम मोदी और सीएम योगी के नेतृत्व में देश सही दिशा में आगे बढ़ रहज रहा है। एक नागरिक होने के नाते राष्ट्र निर्माण के पवित्र अभियान में सभी को अपना सर्वोच्च योगदान देना होगा। इसके पहले मुख्य अतिथि प्रदेश सह संगठन महामंत्री भवानी सिंह ने दीप प्रज्वलित कर मकर सक्रांति महोत्सव का विधिवत शुभारंभ किया। 

भवानी सिंह ने प्रदर्शनी का किया उदघाटन
शहर के रामलीला मैदान में आयोजित मकर सक्रांति महोत्सव में दही-चूड़ा भोज से इतर विभिन्न प्रदर्शनियां भी लोगों के बीच खासा आकर्षण का केंद्र थीं। इन प्रदर्शनियों का उद्घाटन प्रदेश सह संगठन महामंत्री भवानी सिंह ने किया।

गीतों के जरिए सुनाई बलिया गौरव गाथा
अचिन्त्य त्रिपाठी ने बलिया गौरव गाथा का गान किया। अचिन्त्य ने जिले का क्रांतिकारी इतिहास बखूबी बयां किया। कम समय में पहली बार विधायक और मंत्री बने युवा नेता आनंद स्वरूप शुक्ल के संघर्ष और राजनीतिक सफर को भी सबके सामने रखा। अंतरराष्ट्रीय उद्घोषक विजय बहादुर सिंह ने अपने संचालन से मकर सक्रांति महोत्सव में आए हजारों लोगों को घंटों बांधे रखा। लोक गायिका सुनीता पाठक व इंडियन आइडल फेम पल्लव सिंह ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया।

यह खबर भी पढ़े: सनसनीखेज मामला : प्रेमी ने प्रेमिका के दो बच्चों को गंगनहर में फेंका, एक का शव बरामद, दूसरे की तलाश जारी

यह खबर भी पढ़े: नीता अंबानी ने DAIS की वर्चुअल ग्रेजुएशन सेरेमनी में किया संबोधित, बोलीं ये बड़ी बात...

From around the web