अन्नदाता भगवान का स्वरूप होता है और जब भगवान ही रुष्ट हो गया तो इस सरकार की खैर नहीं : जयंत चौधरी

 


मथुरा। जिले के नौहझील के गांव बरौठ और मानागढ़ी में गुरूवार किसानों की महा पंचायत पहुंचे राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने केन्द्र सरकार से लेकर मथुरा सांसद पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी किसानों को मूर्ख समझ रहे है, किसानों के खिलाफ साजिश रच रही है, 70-75 किसानों के शहीद होने के बाद भी कृषि कानूनों पर सरकार सुनने को तैयार नहीं है, सांसद हेमामालिनी क्या समझेंगी किसानों का दर्द।  

जयंत चौधरी गुरुवार को नौहझील के गांव बरौठ और मानागढ़ी में किसानों की पंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार मनमानी और तानाशाही कर रही है। इसके लिए हमें लंबी लड़ाई लड़नी पड़ेगी। आगामी 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में एकजुट होकर ट्रैक्टर मार्च निकाला जाएगा। इसमें किसान बढ़-चढ़ कर भाग लें। 

उन्होंने कहा केंद्र में और उत्तर प्रदेश में जिस पार्टी की सत्ता है उसी के एक सांसद ने इस गांव को गोद लिया है परंतु सांसद को गोद लिए हुए गांव से 14 सौ किलोमीटर दूर मुंबई में रहती है। उन्हें किसानों के दर्द से कोई मतलब नहीं, आज की पंचायत के लिए मैंने सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें पंचायत में आने का निमंत्रण दिया परंतु उन्हें किसान समस्या से कोई मतलब नहीं केंद्र सरकार द्वारा किसानों के विरोध में जो तीन काले कानून बनाए हैं वह किसान विरोधी हैं। अन्नदाता भगवान का स्वरूप होता है और जब भगवान ही रुष्ट हो गया तो इस सरकार की खैर नहीं।

यह खबर भी पढ़े: भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा पहुंचे लखनऊ, हवाई अड्डे पर हुआ जोरदार स्वागत

From around the web