आईएसएल-7 : प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखने उतरेगी जमशेदपुर एफसी

 


गोवा। पिछले तीन मैचों में हार की हैट्रिक झेलने के कारण जमशेदपुर एफसी हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में तालिका में आठवें नंबर पर खिसक चुकी है। टीम को अब रविवार को वॉस्को के तिलक मैदान में हैदराबाद एफसी का सामना करना है, जहां वह जीत दर्ज करके पहली बार टूर्नामेंट के प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखना चाहेगी। 

जमशेदपुर के कोच ओवेन कॉयले यह अच्छी तरह से जानते हैं कि उन्हें क्या करना है। कॉयले पिछले सीजन में चेन्नइयन एफसी के कोच थे और उस समय भी चेन्नइयन की टीम मौजूदा समय में जमशेदपुर की जैसी ही थी, लेकिन बाद में चेन्नइयन ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फाइनल तक का सफर तय किया था। 

कॉयले का मानना है कि जमशेदपुर की टीम फिलहाल अच्छी स्थिति में है और वह टॉप चार में जगह बनाएगी। कॉयले ने कहा, ‘‘ प्लेऑफ स्थान के लिए लड़ने के लिए हमारे पास अभी आठ मैच है। अगर किसी को भी पता है कि ऐसा करना चुनौतीपूर्ण है तो यह सही है क्योंकि मैं भी पिछले साल सबसे नीचे था (चेन्नइयन के साथ) लेकिन बाद में हमने बेहतरीन छलांग लगाई। पिछले साल चेन्नइयन के मुकाबले जमशेदपुर बेहतर स्थिति में है, इसलिए हम वहां पहुंचने में सक्षम हैं। हमें जो करना है, वह हमारी पूरी कोशिश है।’’ 

जमशेदपुर ने हाल में फॉरवर्ड सेमिनलेन डौंजेल (लोन पर) और फारुख चौधरी को अपने साथ जोड़ा है और वे दोनों रविवार को खेल सकते हैं।   दूसरी तरफ, हैदराबाद की टीम शानदार फॉर्म में चल रही है और वह पिछले चार मैचों से अजेय है। हैदराबाद अपने प्रतिद्वंद्वी जमशेदपुर की डिफेंस में सेंध लगाना चाहेगी क्योंकि कायॅले की टीम पिछले तीन मैचों में आठ गोल खा चुकी है। लेकिन आईएसएल के इतिहास में हैदराबाद की टीम अब तक तीन बार जमशेदपुर से भिड़ी है और वह एक बार भी जमशेदपुर को हरा नहीं पाई है।

हैदराबाद के कोच मैनुअल मारक्वेज को उम्मीद है कि दोनों टीमों के लिए यह एक मुश्किल मैच होगा। मारक्वेज ने कहा, ‘‘ हम एक ऐसी टीम के खिलाफ खेलते हैं जो लगातार तीन टीमों के बाद जीतना चाहेगी। वे शीर्ष चार में पहुंचना चाहती है और कारण है कि उन्होंने दो नए खिलाड़ियों के साथ करार किया। वे एक मजबूत टीम है जिनके पास काफी अनुभव है।’’

यह खबर भी पढ़े: जाह्नवी कपूर की 'गुड लक जैरी' की शूटिंग पटियाला के लोगों ने रोकी, बोले- जब तक नए कृषि कानून रद्द नहीं होते...

यह खबर भी पढ़े: Bird Flu: WHO ने कहा- ठीक से पका चिकन, अंडे खाने से कोई खतरा नहीं, और बरते ये सावधानियां

From around the web