हिमालय से आ रही उत्तरी हवाओं के असर से बदला राजस्थान के मौसम का मिजाज

 


जयपुर। हिमालय से आने वाली उत्तरी हवाओं के असर के चलते राजधानी जयपुर समेत पूरे राजस्थान में मौसम का मिजाज पूरी तरह से बदल जाएगा। इस दौरान पांच से ज्यादा जगहों पर घना कोहरा छाने के साथ ही रात और दिन के तापमान में चार डिग्री तक गिरावट तय है। जयपुर के दूरदराज के इलाकों और हाइवे पर शनिवार सवेरे हल्का कोहरा छाया रहा।

जयपुर मौसम विभाग केंद्र के अनुमान के अनुसार प्रदेश में सर्दी के तेवर तीखे होने वाले है। आगामी तीन दिनों में पहाड़ी इलाकों से सर्द हवाएं मैदानी इलाकों की ओर बढऩे का अनुमान जताया गया है। इस बदलाव के कारण अगले सप्ताह तेज गलन भरी ठंड रहने के साथ ही न्यूनतम तापमान 4 से 5 डिग्री तक गिरने की संभावना है। लगातार सर्द हवाएं चलने से कई इलाकों में पारा जमाव बिंदु के आसपास जाने के आसार रहेंगे। बीती रात जयपुर समेत 10 से ज्यादा जगहों पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे दर्ज हुआ।

पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव के चलते फिलहाल राज्य के ज्यादातर स्थानों पर दिन का अधिकतम तापमान औसत से 2 से 4 डिग्री सेल्सियस ज्यादा है लेकिन उत्तरी हवाओं का प्रभाव शुरू होने से 25 से 27 जनवरी तक तापमान लुढक़ेगा। जयपुर में शनिवार सुबह कई जगहों पर हल्का कोहरा छाया रहा। शीतलहर चलने से सर्दी का असर बरकरार है। जोबनेर का बीती रात का तापमान 3.5 डिग्री बढक़र 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं माउंटआबू, पिलानी, चूरू, भीलवाड़ा, सीकर, फतेहपुर में तेज ठंड रही। यहां पारा सात डिग्री से नीचे दर्ज किया गया।

प्रदेश में अभी दिन में सूर्य किरणों के चलते आमजन को सर्दी से राहत मिल रही है, तो रात को चल रही तेज शीतलहर और तापमान में गिरावट के चलते सर्दी का अहसास भी तेज होने लगा है। बीती रात राजधानी जयपुर सहित 16 शहरों में न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। मौसम विभाग जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि फिलहाल प्रदेश में न्यूनतम तापमान औसत के आसपास बना हुआ है और दिन का अधिकतम तापमान औसत से 2 से 3 डिग्री ऊपर तक दर्ज किया जा रहा है। आगामी 2 दिनों में एक पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक असर से मौसम शुष्क बना रहेगा, लेकिन इस सिस्टम के गुजरने के बाद राजस्थान के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2 से 4 डिग्री तक की गिरावट दर्ज की जाएगी।

यह खबर भी पढ़े: Republic Day 2021: इस बार गणतंत्र दिवस कई मायनों में होगा अलग, परेड में 38 विमान लेंगे हिस्सा, राफेल भी दिखयेगा अपना कमाल

From around the web