प्रदेश में 18 जनवरी से 17 फरवरी तक चलेगा राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह, परिवहन मंत्री करेंगे शुभारंभ

 


जयपुर। राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह का आयोजन 18 जनवरी से 17 फरवरी 2021 तक किया जायेगा। परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास एवं परिवहन राज्य मंत्री अशोक चांदना 18 जनवरी को प्रातः 10ः30 बजे जवाहर सर्किल जयपुर से सड़क सुरक्षा कार्यक्रम का शुभारंभ करेंगे।

प्रादेशिक परिवहन अधिकारी, जयपुर राकेश शर्मा ने बताया कि  दुर्घटनाओं को रोकने, आम नागरिकों को यातायात नियमों की जानकारी देकर शिक्षित एवं जागृत करने एवं स्वच्छ-स्वस्थ-सुरक्षित सड़क संस्कृति विकसित करने के उद्देश्यों की पूर्ति के लिए राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के दौरान परिवहन विभाग एवं यातायात पुलिस, शिक्षा विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सड़क संबंधी विभाग, राजस्थान राज्य पथ परिहवन निगम, सिटी बस सर्विसेज लि., जयपुर मेट्रो, राजस्थान स्टेट मोटर गैराज विभाग, भारतीय रेल, ऑटोमोबाइल डीलर्स, मोटर ड्राइविंग स्कूल्स, फिटनेस सेन्टर्स, टायर डीलर्स, पेट्रोलियम डीलर्स, गैस एजेन्सीज, टॉल प्लाजा, एग्रीगेटर्स, सेवा प्रदाता (स्विगी, जोमेटो, अरबन क्लैप), टेलीकॉम कम्पनीज तथा अन्य एसोसिएशन्स एवं यूनियन्स द्वारा विभिन्न गतिविधियां की जायेंगी। 

शर्मा ने बताया कि सम्बंधित विभाग तथा NGO द्वारा सड़क सुरक्षा माह के दौरान विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जायेंगी। जिनमें सड़क सुरक्षा शपथ, बैनर/होर्डिंग, इलेक्ट्रॉनिक, प्रिन्ट एवं सोशल मीडिया इत्यादि के माध्यम से सड़क सुरक्षा, गुड सेमेरिटन दिशा निर्देशों का व्यापक प्रचार-प्रसार, सभी कार्यालयों, नगर निगम पर होर्डिंग्स का प्रदर्शन, प्रादेशिक एवं जिला परिवहन कार्यालय झालाना, जगतपुरा, विद्याधर नगर में लाइसेंस आवेदकों तथा आगन्तुकों के लिए सड़क सुरक्षा प्रदर्शनी का आयोजन किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से सड़क सुरक्षा उन्मुखीकरण, जीवन रक्षक प्रणाली एवं गुड सेमेरिटन दिशा निर्देश, मोटर व्हीकल ड्राइविंग रेगुलेशन, 2017, ट्रेफिक कंट्रोल डिवाइसेज, 5 की रिस्क फेक्टर्स हेतु क्षमता निर्माण कार्यशालाएँ, बाल वाहिनी दिशा निर्देश, सुरक्षात्मक वाहन चालन, विभिन्न इन्डस्टि्रयल एरियाज़ में वर्कर्स हेतु सड़क सुरक्षा प्रशिक्षण एवं क्षमता निर्माण कार्यशालाओं का आयोजन किया जायेगा।

इस दौरान समस्त प्रर्वतन एजेंसियों द्वारा यातायात नियमों के उल्लंघनकर्ताओं की समझाइश एवं काउंसलिंग की जायेगी। यातायात नियमों का पालन करने वाले सड़क उपयोगकर्ताओं का प्रवर्तन कार्मिकों द्वारा फूल/बैच देकर सम्मान किया जायेगा एवं आमजन को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उनकीे फोटो सोशल मीडिया व प्रिन्ट मीडिया में प्रसारित की जायेगी। हेलमेट, सीटबेल्ट, गतिसीमा, वाहन संचालन के समय मोबाईल फोन का प्रयोग, नशे में वाहन चलाना, रेड लाईट जंपिंग इत्यादि के उल्लंघनकर्ताओं के विरूद्ध सघन प्रवर्तन अभियान चलाया जायेगा। 

पी यू सी, बीमा, अंडर रन प्रोटेक्शन डिवाइस, स्पीड गर्वनर, फिटनेस नम्बर प्लेट रिफ्लेक्टर टेप की सघन जाँच कर प्रर्वतन कार्यवाही की जायेगी। नॉन मोटराइज़्ड वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाने का विशेष अभियान चलाना तथा क्षेत्र के ऎसे सभी वाहनों पर रिफ्लेक्टिव टेप लगाना सुनिश्चित किया जायेगा। ओवरलोड/ओवरक्राउडिंग करने वाले वाहन चालकों को यातायात नियमों का पालन करने की समझाइश एवं प्रवर्तन कार्य। व्यवसायिक/निजी वाहन चालकों आदि को स्वस्थ नशा मुक्त जीवन, सुरक्षात्मक चालन के लिए प्रेरित किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि विद्यालय खुलने की स्थिति में छात्र-छात्राओं के सहयोग से परिवहन कार्यालय में सड़क सुरक्षा से संबंधित वाल पेंटिंग बनवायी जायेगी एवं सर्वश्रेष्ठ कृति को पुरस्कृत किया जायेगा। सडक दुर्घटना में मृतकों को श्रद्धांजली अर्पण, साइकिल रैली, समस्त ऑटोमोबाइल डीलर्स द्वारा शोरूम एवं वर्कशॉप (रिसेप्शन अथवा वेटिंग एरिया में) रोड सेफ्टी कॉर्नर बनाना, सार्वजनिक स्थानों, मॉल्स व्यस्त इलाकों एवं संस्थानों पर नुक्कड़ नाटक का प्रदर्शन किया जायेगा। 

यह खबर भी पढ़े: केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री चौबे ने कहा, वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित, लोग अफवाहों से रहे दूर

 

From around the web