जयपुर में सर्वाधिक 1057 तो जैसलमेर में सबसे कम 98 वॉरियर्स को लगी वैक्सीन की डोज

 


जयपुर। कोरोना महामारी के संक्रमण से बचाव के लिए राज्य में चल रहे वैक्सीनेशन अभियान में जिन फ्रंटलाइन वॉरियर्स को टीकाकृत करने के चिह्नित किया गया हैं, उनमें से अधिकांश वैक्सीन लगवाने नहीं पहुंच रहे हैं। प्रदेश के 167 सत्र स्थलों पर सोमवार को भी तय किए गए 16 हजार 426 के लक्ष्य के विपरीत 11 हजार 288 लोगों को ही वैक्सीन लगाई गई। यह उपलब्धि 68.72 प्रतिशत रही। 

राज्य में सोमवार को इन सत्र स्थलों पर 10 हजार 850 (68.56 प्रतिशत) फ्रंटलाइन वॉरियर्स को कोविशील्ड तथा 438 (73 प्रतिशत) को को-वैक्सीन की डोज दी गई। इस दौरान अलवर, बाड़मेर, डूंगरपुर, जयपुर, कोटा, नागौर, पाली तथा उदयपुर जिलों में कुल 15 वॉरियर्स की वैक्सीन लगाने के बाद तबीयत बिगड़ गई। इन वॉरियर्स में एईएफआई के लक्षण प्रतीत होने के बाद कुछ समय उन्हें आईसीयू में रखा गया, फिर सेहत सुधरते ही छुट्टी दे दी गई।

वैक्सीनेशन अभियान के तहत सोमवार को राजधानी जयपुर में सर्वाधिक 1057 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई। इसके बाद उदयपुर जिले में 635 तथा अलवर जिले में 627 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई। प्रदेश में सबसे कम वैक्सीनेशन सोमवार को सरहदी जिले जैसलमेर में हुआ। यहां तय लक्ष्य 279 के विपरीत सिर्फ 98 लोगों को ही वैक्सीन की डोज लगाई गई।

यह खबर भी पढ़े: पाकिस्तान में आजादी समर्थक रैली में दिखाए नरेन्द्र मोदी के पोस्टर

From around the web