दिनेश चंद्र ने कहा- जन-जन के सहयोग से होगा अयोध्या के राम मंदिर का निर्माण

 


भीलवाड़ा। राम भक्त भूमि तीर्थ तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के ट्रस्टी व विश्व हिन्दू परिषद केंद्रीय प्रबंधक समिति के सदस्य दिनेश चंद्र ने कहा की अयोध्या में प्रभु राम का मंदिर जन जन के सहयोग से बनेगा। इसके लिए सभी वर्गो के लोगों को आगे आना होगा। उन्होंने 70 एकड़ भूमि में बनने वाला राम मंदिर तथा विभिन्न 20 परियोजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने संपूर्ण समाज को आह्वान किया कि तन मन धन से इस पुनीत कार्य के लिए समर्पण करे।

दिनेशचंद्र भीलवाड़ा के हरिशेवा धर्मशाला में पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि मुक्ति हेतु विगत 492 वर्षों में राम भक्तों द्वारा किए गए संघर्ष गाथा से अवगत करवाया, जिसमें 76 युद्वों में लगभग चार लाख राम भगत शहीद हुए है। वर्तमान में 77 वे संघर्ष के पश्चात सर्वाेच्च न्यायालय के निर्णय अनुसार भव्य मंदिर का निर्माण प्रस्तुत हुआ है।  

इस मौके पर महामंडलेश्वर हंसराम जी महाराज ने कहा कि यह मंदिर निर्माण समस्त संतों के आशीर्वाद एवं आध्यात्मिक शक्ति द्वारा संपन्न होगा। इस अवसर पर महंत नरेंद्र बाबू गिरी, संकट मोचन हनुमान मंदिर, महंत बलराम दास रपट के बालाजी, मोनी बाबा देवरिया बालाजी, काठियाबाबा बनवारी शरण छोटी हरणी, महंत रामायणी महा ट्रांसपोर्ट नगर, महंत लालबाबा महाराज रिको हनुमान मंदिर, संत दास महाराज हाथी भाटा मंगलपुरा, लोकेश्वर महाराज सिद्ध बालाजी मंदिर, रामदास महाराज,एवं संत मायाराम उपस्थित थे।

उपस्थित संतो ने आम जनता में वितरित किए जाने वाले पत्रक फोल्डर का विमोचन किया। प्रेस वार्ता के समय राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र निधि समर्पण इकाई के प्रांतीय, विभाग व जिले के अधिकारी एवं संघ, विश्वहिन्दू परिषद्  के पदाधिकारी उपस्थित थे। इन सभी संतो ने दिनेशचंद्र व चांदमल का शाल उड़ाकर सम्मान किया। कार्यक्रम में उपस्थित विभिन्न महानुभाव का परिचय विभाग सहसयोजक शिवकुमार कुमावत ने करवाया।

पत्रकार वार्ता के बाद राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र मंदिर निर्माण हेतु कांचीपुरम में सभा का आयोजन किया गया। जिसमें महामंडलेश्वर स्वामी हंसराज महाराज, गों सेवक अशोक कोठारी, विभाग संघचालक चांदमल सोमानी, महानगर संघचालक कैलाश खोईवाल, प्रान्त सेवा प्रमुख रविन्द्र जाजू उपस्थित रहे।

कार्यक्रम में दिनेशचंद्र ने आह्वान करते हुए कहा कि अयोध्या में राम जन्मभूमि निर्माण से अभी तक बलिदान हुए चार लाख राम भक्तों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। ढाई से 3 वर्ष के मध्य राम लल्ला मंदिर ग्रह गर्भ में वीराजाएंगे। जहां पर हजारों राम भक्त दर्शन का लाभ ले सकेंगे। संपूर्ण मंदिर का निर्माण कार्य एवं लगभग 20 अन्य परियोजनाओं के निर्माण का कार्य निरंतर चलता रहेगा। अयोध्या को विश्व का आध्यात्मिक केंद्र बनाया जाएगा। हंसराम महाराज ने कहा कि आवश्यकता होने पर मंदिर निर्माण के सहयोग हेतु जनता के मध्य जाने से भी नहीं हिचकूंगा। उन्होंने उपस्थित सभी दानदाताओं को आह्वान किया कि आप आप द्वारा वर्षों वंचित धन में से कम से कम एक तिहाई धन इस कार्य हेतु समर्पित करे। 

यह खबर भी पढ़े: अभिनेत्री फातिमा सना शेख ने पाली जिले के नारलाई फोर्ट में मनाया 28वां जन्मदिन

From around the web