मायरा में सड़क किनारे मिला युवक का शव, हाथ बांध कर की हत्या

 


चित्तौड़गढ़। जिले के विजयपुर थाना क्षेत्र में स्थित मायरा गांव में बुधवार रात एक युवक की हत्या कर दी गई। इसके हाथ पीछे से बंधे हुवे मिले और सिर में भारी पत्थर का वार किया गया। इसका शव लोगों ने गुरुवार सुबह सड़क किनारे पड़ा देखा तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया है। 

जानकारी में सामने आया कि चित्तौड़गढ़ जिले में बिजयपुर थाना क्षेत्र में मायरा गांव की सरहद में गुरुवार सुबह एक युवक का शव पड़ा देखा। दूध विक्रेताओं ने शव देखा तो इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। बुधवार रात को अज्ञात लोगों ने इसकी हत्या कर दी थी। बिजयपुर थानाधिकारी दीपक बंजारा मय जाब्ता मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। युवक की पहचान मायरा गांव निवासी रतन (23) पुत्र घीसा भील के रूप में हुई। इस दौरान उसके परिजन भी मौके पर आ गए। पुलिस ने मौका देखा तो सामने आया कि रतनलाल के हाथ बंधे हुए थे और इसके सिर में गंभीर चोट थी। पुलिस ने जहां शव मिला उसके आस-पास के क्षेत्र को कवर कर के साक्ष्य जुटाए है। यहां शव से कुछ दूरी पर रक्त से सना एक पत्थर मिलने की बात भी सामने आई है। 

जानकारी मिली है कि मृतक रतनलाल भील ट्रैक्टर पर मजदूरी करता है और इसकी पारिवारिक स्थिति भी ज्यादा अच्छी नहीं है। यह शादी शुदा होकर इसके माता-पिता व एक भाई भी है। इधर, घटना को लेकर अभयपुर के पूर्व सरपंच राजेंद्रसिंह सहित बड़ी संख्या में आस-पास के ग्रामीण मौके पर पहुंचे हैं। घटना को लेकर लोगों में खासा आक्रोश देखने को मिल रहा है। इधर, मामले की जानकारी मिलने के बाद गंगरार पुलिस उप अधीक्षक कमल किशोर जांगिड़ भी मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली है। 

इस घटना के बारे में पुलिस अधीक्षक को भी सूचित किया गया है। इसके बाद चित्तौड़गढ़ जिला मुख्यालय से एमओबी व डॉग स्क्वायड टीम मौके पर पहुंची है, जिसने साक्ष्य जुटाए। इस मामले में पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। शव को बस्सी चिकित्सालय लाए, जहां मेडिकल बोर्ड से शव का पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। 

यह खबर भी पढ़े: वर्ष 2020 में CRPF ने जम्मू-कश्मीर में कई अभियान चलाकर करीब 215 आतंकियों को किया ढेर

From around the web