24 घंटे बाद चंबल नदी से निकला युवती का शव

 


कोटा। खेड़ली फाटक थाना क्षेत्र के फतेहगड़ी के पास चंबल नदी में कुदी युवती का शव शुक्रवार को 24 घंटे बाद दूसरे दिन रेस्क्यू कर नदी से बाहर निकाला गया। भीमगंजमंडी थाना कॉन्स्टेबल लड्डू लाल ने बताया कि खेड़ली फाटक फतेहगड़ी चंबल नदी में गुरुवार शाम को एक युवती ने आत्महत्या का प्रयास करते हए छलांग लगा ली थी। घटना की जानकारी पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। युवती की तलाशी को लेकर नगर निगम गोताखोर टीम, एसडीआरएफ को बुलवाया गया। 

जहां रेस्क्यू टीम के जवानों ने नावों से चम्बल नदी में खेडली फाटक से केशोरायपाटन तक 20 किलोमीटर इलाक तक सर्च ऑपरेशन चलाकर युवती की तलाश की। युवती के नदी में कुदने की सूचना पर परजिन भी मौके पर पहुंच गये थे, धीरे-धीरे मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। रात को अंधेरा हो जाने से सर्च ऑपरेशन को बीच मे ही रोकना पड़ा। रेस्क्यू टीम ने सुबह होती दूसरे दिन सर्च ऑपरेशन फिर से शुरू किया गया। कड़ी मशक्कत के बाद युवती का शव चंबल नदी से बाहर निकाला गया। 

भीमगंजमंडी थाना पुलिस ने बताया कि चम्बल नदी में कुदी युवती की शिनाख्त खेड़ली फाटक नंदाजी की बाड़ी निवासी किरण (18) पुत्र नवल किशोर धाकड़ के रूप में हुई हैं। पुलिस ने मृतक युवती के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी पर क्षेत्र करवाया। जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंपा गया। पुलिस ने पीडि़त परिजनों की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दिया हैं। 

यह खबर भी पढ़े: हाई कोर्ट ने मास्क न लगाने वालों को आठ दिन की सजा देने के सरकार को दिए निर्देश

From around the web