असम में 65 स्थानों पर लगाई जाएगी वैक्सीन

 


गुवाहाटी। कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम असम में 16 जनवरी से शुरू होने जा रहा है। राज्य में दो प्रमुख स्थानों सहित 65 स्थानों पर सुबह 10.30 बजे से टीकाकरण कार्यक्रम का उद्घाटन किया जाएगा। असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल डिब्रूगढ़ स्थित असम मेडिकल कॉलेज (एएमसी) में और स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हिमंत विश्वशर्मा गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे।जीएमसीएच के प्रिंसिपल सह चीफ सुपरिटेंडेंट डॉ. अच्युत चंद्र बैश्य ने कहा कि हमने एक ऐप के माध्यम से 100 से अधिक लाभार्थियों की सूची तैयार की है। लाभार्थियों को टीकाकरण के समय और केंद्र के बारे में मोबाइल के जरिये सूचित किया जाएगा।  

डॉ. वैश्य ने कहा कि टीकाकरण अभियान के लिए सभी सुरक्षा उपाय किए जाएंगे। हम वैक्सीन के किसी भी प्रतिकूल प्रभाव से निपटने के लिए तैयार हैं। बेड, टीमें और आईसीयू तैयार हैं। जीएमसीएच में सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शुक्रवार को टीकाकरण होगा। उन्होंने कहा कि हम प्रत्येक दिन 100 लोगों को टीका लगाने का प्रयास करेंगे।जीएमसीएच के अधीक्षक डॉ. अभिजीत शर्मा ने कहा कि लाभार्थियों को अपनी सरकारी आईडी लाना होगा और प्रवेश द्वार पर ही इसकी जांच की जाएगी। लाभार्थियों के लिए एक प्रतीक्षा क्षेत्र बनाया गया है जहां वे टीकाकरण के लिए अपनी बारी का इंतजार करेंगे। टीका लगने के बाद लाभार्थी को आधे घंटे के लिए अवलोकन कक्ष में रोका जायेगा। पूरी टीकाकरण प्रक्रिया में कम से कम 45 मिनट लगेंगे।

असम के बाक्सा में 02, बरपेटा में 03, बिश्वनाथ में 01, बंगाईगांव में 02, कछार में 02, चराईदेव में 01, दरंग में 02, धेमाजी में 02, धुबरी में 02, डिब्रगढ़ में 02, डिमा हसाउ में 02, ग्वालपारा में 02, गोलाघाट में 02, हैलाकांदी में 01, होजाई में 02, जोरहाट में 02, कामरूप (मेट्रो) में 03, कामरूप (ग्रामीण) में 02, कार्बी आंग्लांग में 02, करीमगंज में 02, कोकराझार में 02, लखीमपुर में 03, माजुली में 02, मोरीगांव में 02, नगांव में 02, नलबारी में 02, शिवसागर में 02, शोणितपुर में 03, दक्षिण सालमारा-मानकचार में 02, तिनसुकिया में 02, उदालगुरी में 02, पश्चिम कार्बी आंग्लांग में 02 केंद्र बनाये गए हैं जहां पर कोविड-19 के वैक्सिन दिये जाने की पूरी तैयारी की गयी है।

यह खबर भी पढ़े: भारी तनातनी के बीच अमेरिका ने चीन को दिया बड़ा झटका, अब अमेरिका में व्यापार नहीं कर पाएंगी ये कंपनियां

From around the web