चुनाव आयुक्त ने कोलकाता पुलिस कमिश्नर को फटकारा, पूछा- राजधानी में इतनी सियासी हिंसा क्यों ?

 


कोलकाता। पश्चिम बंगाल में आसन्न विधानसभा चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने तीन दिवसीय दौरे पर कोलकाता पहुंचे केंद्रीय चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने पुलिस कमिश्नर अनुज शर्मा को जमकर फटकार लगाई है। शुक्रवार को शर्मा के साथ बैठक में अरोड़ा ने पूछा कि सूबे की राजधानी होने के बावजूद राजधानी कोलकाता में सियासी हिंसा की इतनी घटनाएं क्यों हो रही हैं? उन्होंने निर्देश दिया कि चुनाव से पहले महानगर में भयमुक्त माहौल बनाना होगा। 

चुनाव आयुक्त ने कहा कि कोलकाता में इतनी घटनाएं होने पर सूबे के अन्य हिस्सों का क्या हाल होगा? पुलिस आयुक्त से यह भी पूछा गया कि गैर-जमानती धाराओं में मामले दर्ज होने पर भी आरोपितों को गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा रहा है? कोलकाता में शांति बहाली के लिए पर्याप्त कदम क्यों नहीं उठाए जा रहे हैं? आयोग ने पुलिस आयुक्त से कहा कि लोग भय-मुक्त होकर मतदान कर सकें, ऐसा माहौल तैयार करना होगा। 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने गुरुवार को बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति पर नाराजगी जताते हुए एडीजी ज्ञानवंत सिंह की भी जमकर क्लास ली थी। उन्होंने कड़े शब्दों में यह तक कहा था कि मतदान के समय किसी भी अधिकारी की जिम्मेदारी के निर्वहन में लापरवाही पाए जाने अथवा उसके पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने पर सिर्फ बदली नहीं की जाएगी बल्कि निलंबित तक किया जा सकता है। अरोड़ा ने आगे कहा था कि निर्देशों का पालन नहीं होने पर आयोग को पता है कि उसे क्या करना है। बैठक में राज्य के मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय, गृह सचिव एचके द्विवेदी और राज्य पुलिस के महानिदेशक वीरेंद्र भी मौजूद थे। उसके बाद शुक्रवार को दिल्ली रवाना होने से पहले चुनाव आयुक्त ने कोलकाता पुलिस आयुक्त के साथ बैठक की जहां उन्हें महानगर में शांति बहाल करने का स्पष्ट निर्देश दिया गया है। 

यह खबर भी पढ़े: इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में राजपथ पर कुल 32 झांकियां की जाएंगी प्रदर्शित, देखें

From around the web