राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीवीआईपी विमान ‘एयर इंडिया वन’ से की पहली यात्रा, जानिए इस विमान की खासियत

 


नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंगलवार को विशेष विमान ‘एयर इंडिया वन- बी777’ का उद्घाटन किया और फिर उसमें सवार होकर पहली उड़ान पर चेन्नई रवाना हो गए। इस तरह के दो विमान पिछले दिनों ही राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के देश और विदेश के आधिकारिक दौरों के लिए अमेरिका से भारत पहुंचे थे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने देश की प्रथम महिला सविता कोविंद के साथ आज यहां ‘एयर इंडिया वन- बी777’ का विधि-विधान से पूजन किया। इस दौरान उन्होंने एयर इंडिया और भारतीय वायु सेना के जवानों से मुलाकात की और उनके साथ फोटो भी खिंचवाई। राष्ट्रपति ने पायलटों, चालक दल के सदस्यों और की पूरी टीम की सराहना भी की। इसके बाद राष्ट्रपति चेन्नई की उद्घाटन उड़ान के लिए एयर इंडिया वन- बी777 विमान में सवार हो गए। राष्ट्रपति श्री वेंकटेश्वर स्वामी मंदिर में पूजा करने के लिए आंध्र प्रदेश के तिरुपति का दौरा कर रहे हैं। राष्ट्रपति की एयर इंडिया वन-बी777 विमान से यह पहली आधिकारिक उड़ान है। 

एयर इंडिया वन' की खासियत 
यह विमान पूर्ण हवाई कमान केंद्र की तरह काम करते हैं, जिनके अत्याधुनिक ऑडियो-वीडियो संचार को टैप या हैक नहीं किया जा सकता। दोनों विमान एक तरह से मजबूत हवाई किले की तरह हैं। राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री के लिए इन विमानों में उन्नत इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट की सुविधा है, जो विमान पर किसी भी तरह के हमले को न केवल रोकते हैं बल्कि हमले के समय जवाबी कार्रवाई भी कर सकते हैं। सेल्फ-प्रोटेक्शन सूट (एसपीएस) से लैस होने के नाते यह विमान दुश्मन के रडार सिग्नल्स को जाम करके पास आने वाली मिसाइलों की दिशा भी मोड़ सकते हैं। विमान के अंदर एक कॉन्फ्रेंस रूम, वीवीआईपी यात्रियों के लिए एक केबिन, एक मेडिकल सेंटर और अन्य गण्यमान्य व्यक्तियों, स्टाफ के लिए सीटें हैं। यह विमान एक बार ईंधन भरने के बाद लगातार 17 घंटे तक उड़ान भर सकेंगे। 

यह खबर भी पढ़े: आज दो चरणों में सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे पीएम मोदी, कोरोना को लेकर बनाएंगे नई रणनीति, क्या फिर से Lockdown

यह खबर भी पढ़े: A Suitable Boy: तब्बू और ईशान खट्टर के बीच लिप-लॉक सीन को लेकर नेटफ्लिक्स के अफसरों के खिलाफ रीवा में शिकायत दर्ज

From around the web