मप्रः फोटोयुक्त मतदाता सूची का हुआ अंतिम प्रकाशन, पुनरीक्षण में बढ़े 8 लाख 43 हजार मतदाता

 


भोपाल। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2021 को एक जनवरी 2021 की अर्हता तिथि के मान से फोटोयुक्त मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन कर दिया गया है। प्रारूप प्रकाशन 25 नवम्बर 2020 के समय प्रदेश की समस्त 230 विधानसभा क्षेत्रों में कुल 5 करोड़ 22 लाख 20 हजार 675 मतदाताओं के नाम दर्ज थे। पुनरीक्षण के दौरान 11 लाख 67 हजार नये मतदाता जोड़े गये, जबकि तीन लाख 24 हजार मतदाताओं के नाम मृत्यु/स्थान परिवर्तन/ दोहरे पंजीकरण आदि के कारण हटायें गये है। इस प्रकार प्रदेश में कुल 8 लाख 43 हजार मतदाताओं की बढ़ोत्तरी हुई है। यानी, प्रारूप प्रकाशित मतदाताओं में 1.63 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी धरणेन्द्र कुमार जैन ने शनिवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में अंतिम प्रकाशन के समय कुल 5 करोड़ 30 लाख 64 हजार 142 मतदाता है। इनमें दो करोड़ 75 लाख 41 हजार 281 पुरुष, दो करोड़ 55 लाख 21 हजार 381 महिला तथा 1480 तृतीय लिंग मतदाता हैं। प्रदेश की जनसंख्या का लिंगानुपात 931 की तुलना में मतदाताओं का लिंगानुपात 927 हैं। इसी प्रकार कुल सर्विस मतदाता 75136 है। प्रदेश के मतदाताओं का जनसंख्या पर अनुपात 63.21 प्रतिशत है। आज की स्थिति में 64 हजार 592 मतदान केन्द्र स्थापित है। 

उन्होंने बताया कि अंतिम प्रकाशित मतदाता सूची का नि:शुल्क वितरण समस्त मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी/जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा किया गया। साथ ही प्रत्येक मतदान केन्द्र पर बूथ लेवल अधिकारियों को भी सूची उपलब्ध कराई गई।

अंतिम प्रकाशित मतदाता सूची की फोटो रहित सूचियां वेबसाइट https://ceomadhyapradesh.nic.in/पर भी उपलब्ध है। कोई भी व्यक्ति इन सूचियों में अथवा सर्च इंजन के माध्यम से अपना नाम देख सकता है। इच्छुक व्यक्ति इन मतदाताओं सूचियों की फोटो रहित पीडीएफ 100 रुपये प्रति विधानसभा की दर से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय अथवा जिला निर्वाचन कार्यालय से भी प्राप्त कर सकते है।

यह खबर भी पढ़े: ‘हरित एवं स्वच्छ ऊर्जा’ के लिए ‘सक्षम’-2021 अभियान शुरू

From around the web