यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी, एक अप्रैल से शुरू हो सकता है कोरोना के कारण बंद शेष ट्रेनों का परिचालन

 


आरा। चीन के शहर वुहान से निकल पूरी दुनिया को अपनी चपेट में लेने वाली वैश्विक महामारी कोरोना के कारण भारत मेंं  23 मार्च 2020 से हुए लॉक डाउन से बंद हुई रेल सेवा अप्रैल  से शुरू हो सकती है। रेलवे देश भर में ट्रेनों के परिचालन को शुरू कराने को ले पूरी तरह तैयार है। सिर्फ कोविड-19 के कारण गृह मंत्रालय के आदेश का इंतजार  है।

दानापुर रेलमंडल  के उच्चपदस्थ सूत्रों के अनुसार फिलहाल  विशेष ट्रेनों के तौर पर राजधानी,दुरन्तो, शताब्दी जैसी कुल 1150 ट्रेनें देश भर में चलाई जा रही हैंं।देश मेंं कोरोना की वैक्सीन का आविष्कार कर लिए जाने,उसका सफल परीक्षण हो जाने और अब लोगोंं को वैक्सीन दिए जाने की सुखद खबरों के बीच भारतीय रेल ने भी ट्रेनों का परिचालन  शुरू करने की उम्मीद जताई है।

सूत्र बताते हैं कि सब कुछ सामान्य हुआ तो एक अप्रैल से देश मेंं सभी तरह की रेल सेवाओंं को शुरू कर दिया जाएगा।भारत सरकार के गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के बाद देश मे लॉक डाउन से अनलॉक की तरफ बढ़ रहे कदम को देखते हुए विशेष ट्रेनें चलाने की अनुमति मिली थी।तब से लेकर अब तक देश भर में राजधानी, दुरंतो और शताब्दी जैसी 1150 मेल एक्सप्रेस ट्रेनें चलाई जा रही हैंं।यह भारतीय रेल की संख्या का 65 प्रतिशत परिचालन है जिसे रेलवे यात्रियों तक पहुंचाने में जुटा हुआ है।

 दानपुर रेल मंडल के सूत्रों के अनुसार ट्रेनों के परिचालन के लिए अब पूरी तरह तैयार है और गृह मंत्रालय की गाइडलाइन के आदेश  के इन्तजार में है। रेलवे सूत्रों के अनुसार रेलवे ने एक साल की अवधि में ट्रेनों की बदली हुई समय सारणी  तैयार कर ली है । इसके अंतर्गत नए टाइम टेबल लागू करने की भी तैयारी में है। बता दें कि फिलहाल सिर्फ आरक्षित विशेष ट्रेनें ही चलाई जा रही है जिससे यात्रियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

यह खबर भी पढ़े: कैलाश विजयवर्गीय ने ममता बनर्जी पर कसा तंज, कहा- काफी दुर्भाग्यपूर्ण है प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में राज्य की मुख्यमंत्री का क्रोधित होना

 

From around the web