केंद्र सरकार ने मुख्य सचिव को जारी किए निर्देश , हरियाणा में हांसी, गोहाना व असंध बनेंगे नए जिले

 


चंडीगढ़। हरियाणा में बहुत जल्द तीन नए अस्तिव में आ सकते हैं। केंद्र सरकार के महा-रजिस्ट्रार कार्यालय की ओर से शुक्रवार की शाम इस संदर्भ में राज्य सरकार को हिदायतें जारी की हैं। हरियाणा में आगामी 31 मार्च तक हिसार जिले का विस्तार कर हांसी, करनाल व कैथल जिलो का विस्तार कर असंध तथा सोनीपत व रोहतक की सीमाओं को बदलकर गोहाना की जिले का दर्जा दिया जा सकता है।

केंद्र सरकार ने राज्य के मुख्य सचिव को निर्देश दिए हैं कि वे इस बारे में सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी करें ताकि किसी भी तरह के बदलाव होने हैं तो वे 31 मार्च तक कर लिए जाएं। हरियाणा में इस समय 22 जिले हैं। दरअसल, इस बार जनगणना का कार्य देरी से हो रहा है। फिलहाल भी इसकी कोई तारीख तय नहीं है कि जनगणना कब तक होगी। इस बाबत जनगणना (ऑपरेशन) के संयुक्त निदेशक वीए वारदे की ओर से सभी राज्यों के मुख्य सचिव व केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र जारी करके निर्देश दिए गए हैं। कोविड-19 की वजह से इस बार जनगणना का कार्य भी रुका हुआ है। इसी के चलते प्रदेश की सीमाओं में होने वाले बदलाव को 31 दिसंबर, 2020 तक के लिए तय कर दिया गया था। राज्य सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में चरखी दादरी को प्रदेश का 22वां जिला बनाया था। 

मनोहर सरकार के दूसरे कार्यकाल के दौरान डिप्टी सीएम दुष्यंत सिंह चौटाला की अध्यक्षता में सीमाओं का नये सिरे से गठन करने के लिए कैबिनेट सब-कमेटी का गठन किया गया है। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने केंद्र के इन निर्देशों के बाद सभी संबंधित अधिकारियों को हिदायतें जारी कर दी हैं। प्रदेश में अब 31 मार्च तक जिलों, उपमंडल, तहसील, उपतहसील, गांव व कस्बों की सीमाओं में बदलाव हो सकता है।

यह खबर भी पढ़े: कांग्रेस ने बनाया था निर्भर भारत, प्रधानमंत्री मोदी ने बनाया आत्मनिर्भर: नड्डा

From around the web