राघव चड्ढा का आरोप- भाजपा के साथ मिलकर किसान आंदोलन को खत्म कराना चाहते हैं कैप्टन अमरिंदर सिंह

 


नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के प्रवक्ता एवं विधायक राघव चड्ढा ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर आरोप लगाया है कि वह भाजपा के साथ मिलकर किसान आंदोलन को खत्म कराना चाहते हैं। चड्ढा ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली बॉर्डर पर लाखों किसान प्रदर्शन कर रहे हैं और गृहमंत्री हैदराबाद में रोड शो कर रहे हैं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।

चड्ढा ने रविवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि भाजपा से सांठगांठ कर मुख्यमंत्री सिंह किसान आंदोलन को रोकने के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कैप्टन सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दोस्ती जगजाहिर है। उन्होंने कहा कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों के बारे में कांग्रेस ने 2019 के घोषणा पत्र में वादा किया था। कहा गया था कि हम एपीएमसी मार्केट खत्म कर देंगे। इन कानूनों को बनाने से पहले कैप्टन अमरिंदर भी उच्चस्तरीय कमेटी का हिस्सा थे। फरवरी में जब किसानों तक इन कानूनों का मसौदा पहुंचा तब चंडीगढ़ में सर्वदलीय बैठक बुलाई गई थी। उसमें कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा था कि हम पंजाब विधानसभा का सत्र बुलाकर इस पर चर्चा करेंगे, लेकिन कैप्टन सिंह ने मना कर दिया था। 

आप नेता चड्ढा ने कहा कि किसानों से जुड़े संगठनों ने 26 नवम्बर को दिल्ली आने की घोषणा की, तब कैप्टन अमरिंदर इस आंदोलन को लीड करने के लिए भी नहीं आए। केंद्रीय गृहमंत्री शाह के बयान के बाद कैप्टन सिंह ने कहा कि गृहमंत्री जो कह रहे हैं, वो ठीक कह रहे हैं। आप नेता ने कहा कि अमित शाह की शर्तों को मानने की अपील कैप्टन सिंह किसानों से कर रहे हैं। इससे स्पष्ट है कि कैप्टन सिंह की भाजपा के साथ सांठगांठ है। वह भाजपा के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य कर रहे हैं।

यह खबर भी पढ़े: जम्मू: एक बार फिर दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, BSF ने चलाया तलाशी अभियान

From around the web