भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने योगी सरकार के कार्यों को सराहा, प्रवासी श्रमिकों की मदद को लेकर थपथपायी पीठ

 
भाजपा अध्यक्ष नड्डा ने योगी सरकार के कार्यों को सराहा, प्रवासी श्रमिकों की मदद को लेकर थपथपायी पीठ


लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी पदाधिकारियों को संगठन की मजबूती के लिए हर वर्ग के बीच जाने का मंत्र दिया है। उन्होंने योगी सरकार के कामकाज की प्रशंसा की। खासतौर पर लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों की मदद करने को सराहा। इसके साथ ही बूथ की तरफ विशेष ध्यान देकर, राजनीतिक मुद्दों के साथ लोगों के बीच में जाने की नसीहत दी। उन्होंने भाजपा को औरों से अलग पार्टी बता सामान्य कार्यकर्ताओं के अहम ओहदे पर पहुंचने का जिक्र करते हुए उनमें जोश भरा और संगठन के कार्यक्रम आगे बढ़ाने को उद्देश्य बनाने की बात कही।   

भाजपा अध्यक्ष ने अपने दौरे के दूसरे दिन शुक्रवार को यहां लखनऊ महानगर एवं जिला के बूथ अध्यक्ष सम्मेलन में कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि यहां जोश, लगन और उमंग दिखायी देना उत्तर प्रदेश के भविष्य के विषय में स्पष्ट संदेश दे रहा है। उन्होंने कहा कि देश में करीब 1500 राजनीतिक दल हैं, उसमें से कुछ दल राष्ट्रीय स्तर के हैं, कुछ क्षेत्रीय हैं। लेकिन, जिसको भाजपा के कार्यकर्ता के रूप में काम करने का मौका मिला है, उसे खुद को भाग्यशाली मानना चाहिए। देश की राष्ट्रीय पार्टियां हों या क्षेत्रीय पार्टी, सभी परिवारवाद से ग्रसित हैं। भाजपा ही एकमात्र ऐसी पार्टी है, जहां साधारण परिवार से आने वाला व्यक्ति देश का प्रधानमंत्री, रक्षामंत्री, गृहमंत्री या मुख्यमंत्री बनता है।

नड्डा ने कहा कि हम सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के साथ आगे बढ़े, एकात्म मानववाद को सम्मिलित किया। दीनदयाल उपाध्याय ने कहा था कि जहां शरीर, मन, बुद्धि और आत्मा आत्मसात होकर आगे बढ़ती है, वही सम्पूर्ण सुख का कारण बनता है। हम अंत्योदय को लेकर चले। इससे निकले 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास' के जरिए ही उज्ज्वला योजना, उजाला योजना, सौभाग्य योजना, जनधन जैसी योजनाएं निकली हैं। 

भाजपा अध्यक्ष ने योगी सरकार के कार्यों की तारीफ करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में लगभग 1.5 करोड़ शौचालय बने। ये सिर्फ शौचालय नहीं बल्कि महिलाओं के सम्मान के लिए, इज्जत घर था। स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत उत्तर प्रदेश और देश ओडीएफ घोषित हो चुका है। कोरोना संकट में जब प्रवासी श्रमिक अपने घर वापस जा रहे थे, तब उत्तर प्रदेश ने सिर्फ यहीं के मजदूरों की चिंता नहीं की, बल्कि प्रदेश से गुजरने वाले हर मजदूर की चिंता की।

उन्होंने कहा कि हर मंडल के पदाधिकारी को चिंता करनी होगी कि हर महीने एक बूथ पर जरूर जाएं और बूथ की समिति के साथ बैठकर अच्छे से बूथ की रचना करें। ये चिंता कीजिए की बूथ में समाज के हर व्यक्ति का समावेश हो। 

भाजपा अध्यक्ष ने सभी से बूथ की तरफ ध्यान देकर,राजनीतिक मुद्दों के साथ लोगों के बीच में जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि संयम, तर्कों, सौम्यता के साथ सबको जोड़ने की ताकत के साथ, उनको समावेशित करने की ताकत आपको खुद में पैदा करनी है। उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसी पार्टी है जिसके पास कार्यकर्ता भी है, कार्यक्रम भी है, नेता भी है, नीति भी है और नीयत भी है। जब सब कुछ हमारे पास है तो आगे बढ़ना ही हमारा उद्देश्य है। 

इससे पहले आज सुबह घने कोहरे के बीच भी नड्डा जियामऊ पहुंचे और भाजपा के नये राज्य मुख्यालय की जमीन का निरीक्षण करने के बाद विश्व संवाद केंद्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारकों के साथ परिचय बैठक की। इसके बाद उन्होंने चिनहट के लिए प्रस्थान किया। चिनहट में उन्होंने मंडल कार्यकर्ताओं के साथ संवाद किया। इसके बाद गोमती नगर विस्तार स्थित सीएमएस स्कूल में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन को सम्बोधित किया। भाजपा अध्यक्ष नड्डा गुरुवार देर शाम लखनऊ पहुंचे हैं।

यह खबर भी पढ़े: सुप्रीम कोर्ट ने वेब सीरीज ''मिर्जापुर'' मामले में अमेजन प्राइम और निर्माता को जारी किया नोटिस

From around the web