बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना से मिल रहे हैं दो लाख रुपए नगद, फॉर्म भरने के लिए जुटी हजारों की भीड़, जानें सच्चाई

 


मुंगेर। मोदी सरकार की महत्वकांक्षी योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत दो लाख रुपए नगद मिलने की अफवाह पर बुधवार को मुंगेर के तारापुर डाकघर में आवेदकों की लंबी भीड़ लग गई। हजारों की संख्या में महिलाओं और लड़कियां फॉर्म को स्पीड पोस्ट करने के तारापुर डाकघर पहुंची। भीड़ इतनी हो गई कि इसे संभालने के लिए पोस्ट ऑफिस प्रशासन को पुलिस की मदद लेनी पड़ी। 

जानकारी के अनुसार कतार में लगी लड़कियों ने बताया कि गांव में उन्हें पता चला कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के तहत सरकार 8 वर्ष से 35 वर्ष की महिलाओं को दो लाख रुपए दे रही है। इसका फॉर्म भी गांव में मिल रहा था। 80 रुपया फॉर्म भरने में खर्च हो रहा है।  हम लोगों ने भी फॉर्म खरिदर इसे भरा है और सरकार के पास भेजने आए हैं। 

जानकारी के अनुसार वहीं इस मामले में एसडीओ रंजीत कुमार किसी भी आवेदन होने से इंकार कर दिया। उन्होंने फॉर्म को फर्जी करार दिया है। ऐसे दुकानदार जो फॉर्म बेच रहे हैं उनपर कार्रवाई करने की बात कही है। 

यह खबर भी पढ़े: हाई कोर्ट: शादीशुदा होते हुए गैर मर्द के साथ पति-पत्नी की तरह रहना लिव इन नहीं, अपराध

यह खबर भी पढ़े: गणतंत्र दिवस पर प्लास्टिक का तिरंगा इस्तेमाल और अपमान करने वालों को होगी इतने साल की सजा, गृह मंत्रालय की एडवाइजरी जारी

From around the web