अमित शाह ने रोड 'शो' में नवाबों के शहर को आधुनिक हैदराबाद में बदल देने का किया वादा

 


हैदराबाद। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव (जीएचएमसी) में भाजपी की जीत सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हैदराबाद में आज रोड शो किया। शाह ने यहां सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) पर जनता से किए गए वादों को पूरा न करने का आरोप लगाते हुए कहा कि जीएचएमसी में जीत हासिल होेने के बाद निजाम नवाबों के शहर को आधुनिक हैदराबाद में बदल देंगे। 

केन्द्रीय अमित शाह आज सुबह हैदाराबाद पहुंचे और सबसे पहले उन्होंने यहां चारमिनार क्षेत्र में स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर में दर्शन कर विशेष पूजा अर्चना की। मंदिर में दर्शन करने के बाद उन्होंने सिकंदराबाद संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के वारासीगुड़ा से सीताफलमंड हनुमान टैंपल तक रोड शो किया। रोड शो में भारी भीड़ रही। इसके बाद शाह ने प्रदेश पार्टी कार्यालय पर वरिष्ठ नेताओं व कार्यकर्ताओं के साथ चुनाव की समीक्षा की। बैठक के बाद शाह ने एक पत्रकार सम्मेलन को भी संबोधित किया।

पत्रकार वार्ता में केंद्रीय गृह मंत्री शाह ने मुख्यमंत्री केसीआर और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी के बयान की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि टीआरएस सरकार की लापरवाही से ही बाढ़ के समय मुख्यमंत्री के आवास तक पानी पहुंच गया। एआईएमआईएम ने अवैध शहर के तालाबों पर अवैध निर्माण को बढ़ावा दिया। हाल ही में बारिश और बाढ़ ने शहर के लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने यहां बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा तक नहीं किया, इसलिए भाजपा को उन्हें जगाने के लिए दिल्ली से हैदराबाद की गलियों तक पहुंचना पड़ा। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि अगर जनता ने चुनाव में भाजपा को मौका दिया तो यहां आईटी क्षेत्र को और मजबूत करने के साथ सुशासन और विकास के नए कीर्तमान गढ़ेंगे। आज के रोड शो की लोकप्रियता को देखने के बाद अमित शाह ने विश्वास जताया कि हैदराबाद का मेयर उनकी ही पार्टी का होगा। 

उन्होंने कि केंद्र सरकार हैदराबाद के विकास के लिए बहुत धन मुहैया करा रही है।  उन्होंने सत्तारूढ़ सरकार से पूछा कि उन्होंने जनता से किए अपने वादों को क्यो पूरा नहीं है। टीआरएस ने 100 दिन में विकास की योजनाएं लाने को कहा था कि लेकिन अभी कोई विकास नहीं हुआ।

शाह ने कहा कि हम निजाम नवाबों के शहर को आधुनिक हैदराबाद में बदल देंगे। हैदाबराद मिनी भारत है, देशभर के लोग यहां आते हैं। हम भविष्य में और हैदराबाद में और अधिक आईटी कंपनियों को लाएंगे।

सत्ता पक्ष टीआरएस और मजलिस के संबंध को लेकर शाह ने कहा कि दोनों नेता बंद कमरे में गुप्त समझौता करते हैं। शाह ने केसीआर को चुनौती दी कि वे जनता के बीच एआईएमआईएम के साथ हुए गुप्त समझौतों का खुलासा करें। शाह ने कहा कि तेलंगाना राज्य में तुष्टीकरण की नीति नहीं चलने देंगे। साथ ही समाज के किसी तबके के साथ अन्याय भी नहीं होगा।

शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी के शासन का सबका साथ, सबका विकास मूल मंत्र है। सरकार की योजनाएं हर वर्ग पर लागू होती हैं, लिहाजा किसी भी संप्रदाय को खुद को अलग नहीं समझना चाहिए। अमित शाह ने ओवैसी की उस चुनौती पर भी जवाब दिया जिसमें एआईएमआईएम नेता ने गृह मंत्री को रोहिंग्या मुसलमानों को हैदराबाद से बाहर निकालने की चुनौती दी थी। जबाव में शाह ने कहा कि अगर अपनी बात से असदुद्दीन ओवैसी वाकई गंभीर हैं तो वे लिखकर दें, मैं घुसपैठियों को भी बाहर निकलेंगे।

अमित शाह ने दावा किया कि इस बार हैदराबाद का मेयर बदलने वाला है और भाजपा चुनाव में भारी जीत हासिल करेगा। उन्होंने हैदराबाद की जनता से गुजारिश की कि वे एक बार भाजपा को मौका दे, हैदराबाद को विश्वस्तरीय आईटी हब बनाने का काम करेंगे।

यह खबर भी पढ़े: जम्मू: एक बार फिर दिखा पाकिस्तानी ड्रोन, BSF ने चलाया तलाशी अभियान

From around the web