राममंदिर निर्माण में समर्पण कर अपना जीवन धन्य मान रहे हैं लोग

 


गुना। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में उनके भव्य मंदिर निर्माण में समर्पण कर लोग अपना जीवन धन्य मान रहे हैं। आगे आकर उत्साह के साथ समर्पण किया जा रहा है। खास बात यह है कि अर्थदानी के साथ ही समयदानी भी सामने आ रहे हैं। यह समदानी समर्पण जुटाने गांव-गांव पहुंच रहे हैं। नवोदय विद्यालय बजरंगगढ़ में प्राचार्य अरुण प्रसाद तिवारी के पिता रघुवीर प्रसाद तिवारी ने खुद ही फोन कर समर्पण की इच्छा जताई। 

तिवारी के आग्रह पर धन सग्रह करने के लिए शनिवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के क्षेत्रीय सेवा प्रमुख अशोक अग्रवाल, विभाग संघ चालक बख्तावर सिंह उनके निवास पहुँचे। उन्होंने श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए एक लाख 11 हजार 111 रुपये का चेक देते हुए भावुक होते हुए कहा कि आज उनका जीवन धन्य हो गया।
 
पूरी हुई समर्पण की इच्छा
शहर से लगभग 42 किलोमीटर दूर जंगलों के बीच गडरियाकोडर गाँव  95 वर्ष के  किशनलाल बारेला मामा ने 1000 रुपये का समर्पण देते हुए कहा कि आज उनका जीवन धन्य हो गया। जब से सुना है कि भगवान राम का मंदिर निर्माण शुरू हो गया है, उनके मन में समर्पण की इच्छा थी। यह इच्छा आपके आने से पूर्ण हो गई है। अमित गोयल, राजवीर यादव ने बताया कि मामा ने भोजन करने के लिए लिए बहुत आग्रह किया। अमरूद खिलाए तथा परिवार के लिए भी अमरूद झोले में रखवा दिए। गांव के अन्य लोगों ने भी समर्पण घर बुलाकर किया। 

यह खबर भी पढ़े: व्लादिमीर पुतिन विरोधी एलेक्सी नवेलनी की गिरफ्तारी पर रूस में विरोध-प्रदर्शन, कई लोगों को हिरासत में लिया

From around the web