शराब बेचने का विरोध करने पर BJP कार्यकर्ता को उतारा मौत के घाट, क्षेत्र में तनाव

 


कोलकाता। उत्तर 24 परगना के भाटपाड़ा में कल रात एक भाजपा कार्यकर्ता की गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। शुक्रवार सुबह कल्याणी के जेएनएम अस्पताल में उनकी मौत हो गयी। भाजपा कार्यकर्ता की हत्या की सूचना फैलते ही भाटपाड़ा के कालाबागान इलाके में तनाव फैल गया। मृतक की पहचान 32 वर्षीय अनूप चौधरी के रूप में हुई है। भाजपा के बैरकपुर के सांसद अर्जुन सिंह ने हत्या के लिए तृणमूल को दोषी करार दिया है। 

बताया गया कि अनूप कुछ दिनों से अनूप श्यामनगर में अपनी बहन के घर पर रहता था, लेकिन पिता की बीमारी की खबर पाकर वह गुरुवार को ही घर लौटा था। कथित तौर पर, साहिल रात में अनूप को बुलाने आया और उससे बात करने के लिए उसे घर बाहर ले गया। परिवार ने दावा किया कि उन्होंने कालाबागान जेजे जूट मिल क्षेत्र में दो राउंड गोलियों की आवाज सुनीं। 

गोलियों की आवाज सुनकर स्थानीय लोग दौड़कर गए, तब तक साहिल भाग गया था।  वहां अनूप रक्तरंजित अवस्था में जमीन पर पड़ा मिला। उसके पेट में गोली लगी थी। स्थानीय लोगों ने अनूप को भाटपाड़ा स्टेट जनरल अस्पताल ले गए। वहां उसकी हालत बिगड़ने पर उसे कल्याणी जेएनएम अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। शुक्रवार सुबह वहां उसकी मौत हो गई। 

मृतक के परिवार ने दावा किया कि आरोपित साहिल और रवि इलाके में शराब और भांग का कारोबार करते हैं। इसका अनूप ने विरोध किया था। इसे लेकर दोनों के बीच पहले भी कई बार झगड़ा हो चुका था। 

इस संबंध में बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने कहा, "अनूप हमारी पार्टी के कार्यकर्ता हैं। पुलिस की मदद से इलाके में शराब और भांग का कारोबार चल रहा है। अनूप ने विरोध किया था और इसी वजह से उसकी हत्या कर दी गई। अगर अपराधियों को जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया तो हम एक बड़ा आंदोलन शुरू करेंगे। 

यह खबर भी पढ़े: भाजपा अध्यक्ष नड्डा बोले- बूथ की तरफ विशेष ध्यान देकर राजनीतिक मुद्दों के साथ लोगों के बीच जाएं

From around the web