कर्नाटक से लादी गई 24 लाख की सुपारी का ट्रक खुर्दबुर्द: ट्रक कृषि मंडी के पास मेें मिला

 


जोधपुर। कर्नाटक से 24 लाख की सुपारी का ट्रक दिल्ली के लिए भेजा गया। चालक व खलासी ने मिलकर ट्रक की सुपारी को खुर्दबुर्द कर डाला और खाली ट्रक को बासनी कृषिमंडी पर खड़ा कर चले गए। अब दोनों के फोन बंद आ रहे है। संदेह है कि सुपारी जोधपुर या इसके आस पास में कहीं खाली करवाई गई है। ट्रक में सुपारी से भरे 275 बैग थे। प्रति बैग में 70 किलो सुपारी भरी थी। यानी 19 हजार 250 किलो सुपारी खुर्दबुर्द हुई है। बासनी पुलिस ने अब ट्रांसपोर्ट व्यापारी की रिपोर्ट पर केस दर्ज कर तफ्तीश आरंभ की है और चालक व खलासी का पता लगाने का प्रयास कर रही है। इनके बाड़मेर भागने की भी आशंका बनी है। 

बासनी पुलिस ने बताया कि बाड़मेर के चिमनजी सरनू निवासी भोमाराम पुत्र गोधूराम जाट की तरफ से रिपोर्ट दी गई। इसमें बताया कि वह कर्नाटक के सेलन में चौधरी फ्रंट केरियर नाम से ट्रांसपोर्ट का कारोबार करता है। 15 जनवरी को एक सुपारी से भरे ट्रक को कर्नाटक से दिल्ली के लिए रवाना किया गया। इस ट्रक में 275 बैग सुपारी लदी थी। जिसका वजन करीबन 19 हजार 250 किलो था। इस सुपारी की कीमत 24 लाख 27 हजार 319 रुपये थी। इस ट्रक को बाड़मेर में पचपदरा थानान्तर्गत टापरा निवासी दिनेश पटेल एवं टापरा के ही नरपतसिंह के साथ दिल्ली के लिए भेजा गया था। ट्रक को दो दिन में दिल्ली पहुंचना था। मगर चालक  व खलासी वहां नहीं पहुंचे। बाद में ट्रक मालिक ओमप्रकाश से बात की गई तो पता लगा कि वे लोग नहीं पहुुंचे है। चालक व खलासी का फोन भी बंद आया। दो दिन पहले सूचना कि ट्रक बासनी कृषिमंडी के निकट खड़ा है। पीडि़त ट्रांसपोर्ट व्यापारी भोमाराम ने संदेह जताया कि ट्रक में लादी गई सुपारी को जोधपुर या आस पास खाली करवा दिया गया है। फिलहाल अब बासनी पुलिस इस प्रकरण की जांच में लगी है।

यह खबर भी पढ़े: यह उम्मीदों के पूरा होने और राष्ट्रीय संकल्पों की सिद्धि के लिए प्रेरणा लेने का अवसरः प्रधानमंत्री मोदी

From around the web