जम्मू कश्मीर की पहली महिला बस ड्राइवर बनी पूजा देवी, बढ़ाया राज्य और देश का मान

 
जम्मू कश्मीर की पहली महिला बस ड्राइवर बनी पूजा देवी, बढ़ाया राज्य और देश का मान


नई दिल्ली। काफी पुरानी कहावत है कि यदि आपके मन में सच में कुछ करने की चाहत है एवं उसे पूरा करने की लगन है तो आपको एक न एक दिन कामयाबी आवश्यक मिलती है। ऐसा ही कुछ जम्मू कश्मीर की पूजा देवी ने साबित कर दिखाया है। 

पूजा जम्मू कश्मीर राज्य की पहली महिला बस ड्राइवर बनी है। यह नौकरी पाते ही उन्होंने पूरे राज्य और देश का मान बढ़ाया है। 30 साल की पूजा को जम्मू कश्मीर परिवहन विभाग में नौकरी प्राप्त हुई है तथा ड्राइवर की नौकरी पाते ही उन्होने केंद्र शासित प्रदेश की पहली महिला बस ड्राइवर होने का इतिहास भी रच दिया है। 

जानकारी के मुताबिक, पूजा कठुआ जिले से संधार बसोहली ग्राम की रहने वाली हैं तथा यहीं से उन्होंने अपनी पढ़ाई की है। परिवहन विभाग की ओर से उन्हें जम्मू और कठुआ के मध्य बस चलाने की जिम्मेदारी प्राप्त हुई है। 

अपनी नौकरी के संबंध में बात करते हुए पूजा ने बोला कि मैं इस नौकरी को पाने का इसलिए ख्वाब देख रही थी क्योंकि मैं यह साबित करना चाहती थी कि केवल मर्द ही यात्री बस को नहीं चाल सकते। उन्होंने कहा कि इस नौकरी से पूर्व उन्होंने टैक्सी और ट्रक भी अनेक बार चलाए हैं। 

उन्होंने आगे कहा के वह ड्राइविंग का प्रक्षिशण भी देती हैं। उन्होंने कहा कि परिवार की आर्थिक हालात बहुत कमजोर है और इसके लिए मैं एक ट्रेनिंग स्कूल में ड्राइविंग भी सिखाती हूं जिसके मुझे 10000 रुपये मिलते थे परन्तु आज के वक्त इतने कम वेतन में परिवार चलाना काफी मुश्किल है। 

यह खबर भी पढ़े: Mann Ki Baat Live Updates: PM मोदी ने कहा- लोग खरीद रहे भारत में बनी हुई चीजें

From around the web