प्रदेश में कड़ाके की सर्दी के बीच शीत लहर का प्रकोप जारी, न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज

 


जम्मू। जम्मू कश्मीर में कड़ाके की सर्दी के बीच शीत लहर का प्रकोप जारी है। इसी बीच आसमान साफ रहने के चलते न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में पारा एक डिग्री सेल्सियस गिर गया और पिछली रात शून्य से 6.0 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले शून्य से नीचे 7.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया विश्व प्रसिद्ध स्वास्थ्य स्थल पहलगाम में शून्य से नीचे 9.3 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ ही घाटी में अन्य जगहों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से काफी नीचे बना रहा।

जम्मू और कश्मीर के प्रवेश द्वार क़ाज़ीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 8.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था और पहलगाम के बाद घाटी में यह दूसरा सबसे ठंडा स्थान रहा। कोकरनाग में शून्य से नीचे 6.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कुपवाड़ा में में पारा शून्य से नीचे 5.9 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।

विश्व प्रसिद्ध स्कीइंग रिसॉर्ट गुलमर्ग में रात के न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 7.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

कश्मीर मध्य चिल्लई-कलां में है, 40-दिवसीय सर्दियों की अवधि जो 21 दिसंबर को शुरू होकर 31 जनवरी को समाप्त होगी। इस अवधि के दौरान सर्दियों का सबसे कठोर समय जारी है। जब बर्फबारी की संभावना सबसे अधिकतम होती है।

मौसम विशेषज्ञ ने अगले 24 घंटों में जम्मू और कश्मीर में रात के तापमान में महत्वपूर्ण सुधार के साथ शुष्क और ठंडे मौसम की भविष्यवाणी की है। हालाकि इसके बाद दो दिनों के लिए, जम्मू-कश्मीर में बारिश, हिमपात, और गरज के साथ व्यापक रूप से हल्की से मध्यम वर्षा का अनुमान है।

यह खबर भी पढ़े: राजधानी में आज 15 से 20 किलोमीटर की रफ्तार से चलेंगी बर्फीली हवाएं, 26 जनवरी तक दिन रात जारी रहेगा शीतलहर का कहर

यह खबर भी पढ़े: 'पठान' के सेट पर डायरेक्टर सिद्धार्थ आनंद ने असिस्टेंट को जड़ा थप्पड़, जानिए फिर क्या हुआ?

From around the web